रजत गुप्ता पर भेदिया कारोबार के लिए 1.39 करोड़ डॉलर का जुर्माना

खास बातें

  • गोल्डमेन साक्स के पूर्व निदेशक रजत गुप्ता पर भेदिया कारोबार के जुर्म में 1.39 करोड़ डॉलर का भारी भरकम जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा वे अब कभी किसी सूचीबद्ध कंपनी में अधिकारी या निदेशक के रूप में काम नहीं कर सकेंगे।
न्यूयार्क:

गोल्डमेन साक्स के पूर्व निदेशक रजत गुप्ता पर भेदिया कारोबार के जुर्म में 1.39 करोड़ डॉलर का भारी भरकम जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा वे अब कभी किसी सूचीबद्ध कंपनी में अधिकारी या निदेशक के रूप में काम नहीं कर सकेंगे।

न्यूयार्क की एक जिला अदालत में जज जेड एस राकॉफ ने यह आदेश जारी किया। भारतीय मूल के गुप्ता पर यह जुर्माना अमेरिकी इतिहास के अब तक के सबसे बड़े भेदिया कारोबार मामले में लगाया गया है।

गुप्ता जून 2012 में दोषी ठहराए जाने के एक समानांतर मामले में अपील कर रहे हैं। इस मामले में उन्हें दो साल की जेल तथा 50 लाख डॉलर जुर्माने की सजा सुनाई गई थी।

बुधवार को लगाए गए जुर्माने के बारे में गुप्ता के अटार्नी से टिप्पणी नहीं ली जा सकी।

इस मामले में गुप्ता पर आरोप था कि उन्होंने कंपनी से जुड़ी गोपनीय सूचनाएं अपने मित्र व हेज फंड प्रबंधक राज राजारत्नम को बताई।

प्रतिभूति एवं विनियम आयोग (एसईसी) ने कहा है कि गुप्ता अब कभी किसी सूचीबद्ध कंपनी में निदेशक या अधिकारी के रूप में काम नहीं कर सकेंगे।

नियामक ने इससे पहले राजारत्नम पर भेदिया कारोबार के आरोप में 9.28 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था।

जज ने कहा कि इस फैसले से उन बोर्ड सदस्यों को स्पष्ट संकेत मिलेगा जिन पर कंपनियों की गोपनीयता की रक्षा की जिम्मेदारी है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com