सोना खरीदने के लिए कर्ज नहीं दें बैंक : आरबीआई

सोना खरीदने के लिए कर्ज नहीं दें बैंक : आरबीआई

खास बातें

  • बैंक अब प्राइमरी गोल्ड, सर्राफा या आभूषण सहित किसी भी रूप में सोने को खरीदने के लिए ऋण नहीं देंगे। केंद्रीय बैंक ने यह कदम लोगों को किसी सटोरिया गतिविधि में शामिल होने से बचाने के लिए उठाया है।
मुंबई:

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकों को निर्देश दिया कि वे किसी भी रूप में सोना खरीदने के लिए ऋण नहीं दें।

बैंक अब प्राइमरी गोल्ड, सर्राफा या आभूषण सहित किसी भी रूप में सोने को खरीदने के लिए ऋण नहीं देंगे। केंद्रीय बैंक ने यह कदम लोगों को किसी सटोरिया गतिविधि में शामिल होने से बचाने के लिए उठाया है।

केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में कहा है... 'सलाह दी जाती है कि बैंक द्वारा किसी भी रूप में सोना खरीदने के लिए ऋण नहीं दिया जाना चाहिए।'

सोने के जिन रूपों का अधिसूचना में उल्लेख किया गया है उनमें प्राइमरी गोल्ड, सोना सर्राफा, सोना आभूषण, सोना सिक्का, सोना ईटीएफ इकाई तथा सोना म्यूचुअल फंड इकाई है।

हालांकि इसमें कहा गया है कि बैंक जौहरियों की उचित क्रियाशील पूंजी जरूरतों के लिए धन दे सकते हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

केंद्रीय बैंक ने सोने के आयात में हाल ही में आई अच्छी खासी बढोतरी को देखते हुए यह कदम उठाया है। इसके चलते चालू खाता घाटे पर दबाव बढ़ रहा था।

वित्तवर्ष 2011-12 में भारत का सोने का आयात 60 अरब डॉलर मूल्य का रहा जबकि मात्रा 1,067 टन रही।