NDTV Khabar

कैश की किल्लत : NDTV से RBI सूत्र ने कहा, चुनाव के लिए जमा की जा रही नकदी, इसलिए भी दिक्कत

अब जब देश के कई राज्यों में पैसे की कमी देखी जा रही है ऐसे में देश के केंद्रीय बैंक आरबीआई ने कई दिशा निर्देश जारी कर समस्या का हल निकालने की कोशिश शुरू कर दी है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कैश की किल्लत : NDTV से RBI सूत्र ने कहा, चुनाव के लिए जमा की जा रही नकदी, इसलिए भी दिक्कत

देश में एटीएम में आ रही कैश की किल्लत पर आरबीआई ने बयान दिया.

खास बातें

  1. देश में कई शहरों में कैश की किल्लत
  2. एटीएम से नहीं मिल रहा कैश
  3. आरबीआई ने जारी किए दिशा-निर्देश.
नई दिल्ली: देश के कई शहरों में जहां नोटबंदी जैसे हालात पैदा हो गए हैं वहीं आरबीआई की ओर से इस संबंध में चौंकाने वाली बात कही गई है. आरबीआई ने कहा है कि चुनाव के लिए रुपये को जमा किया जा रहा है. इसके कारण निकासी ज्यादा की जा रही है. बता दें कि भारत में चुनावों में अकसर धन का दुरुपयोग होता है. हमेशा कई चुनाव क्षेत्रों में धन बल और बाहुबल के जरिए चुनाव जीतने की बात सामने आती रही है. 

अब जब देश के कई राज्यों में पैसे की कमी देखी जा रही है ऐसे में देश के केंद्रीय बैंक आरबीआई ने कई दिशा निर्देश जारी कर समस्या का हल निकालने की कोशिश शुरू कर दी है. 

टिप्पणियां
एनडीटीवी से आरबीआई के सूत्रों ने कहा -
  1. जहां कमी वहां नक़द भेजने का निर्देश
  2. सरप्लस कैश रखने वाले बैंकों को निर्देश
  3. कैश की मांग बढ़ी
  4. मांड-सप्लाई का अंतर बढ़ा
  5. ATM से ट्रांज़ैक्शन बढ़ा
  6. अब 3000 की जगह 5000 औसत निकासी
  7. देवास में नोटों की छपाई कुछ दिन रुकी
  8. कर्मचारी पैसे चुराते पकड़ा गया था
  9. नोटबंदी के पहले 17.74 लाख करोड़ बाज़ार में
  10. अब 18.04 लाख करोड़ बाज़ार में
  11. लोग नक़दी जमा कर रहे हैं
  12. चुनाव के लिए जमा की जा रही नक़दी
देश में एक बार फिर नोटबंदी जैसे हालात नजर आ रहे हैं. कुछ राज्यों और कई शहरों में एटीएम से कैश नहीं निकल रहा है. दिल्ली में भी कुछ एटीएम में ऐसी ही स्थिति बनी हुई है. कई स्थानों पर तो ऐसा हो रहा है कि मोबाइल पर निकासी का मैसेज तक आ रहा है और पैसे निकल नहीं रहे हैं. इतना ही नहीं ईमेल के जरिए भी संदेश जा रहा है लेकिन पैसे नहीं निकले हैं. कुछ जगह एटीएम में निकासी पर कैश निकासी की सीमा तय कर दी गई है. 

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि देश में कैश के हालात का जायज़ा लिया. कुल मिलाकर पर्याप्त से ज़्यादा कैश चलन में है और बैंकों के पास भी है. कुछ इलाक़ों में अचानक और बढ़ी हुई मांग से पैदा हुई क़िल्लत से जल्द ही निबटा जा रहा है. इधर वित्त राज्यमंत्री का कहना है कि कैश की कोई किल्लत नही हैं, ये अलग बात है कि कहीं कम है तो कहीं ज़्यादा है। उन्होंने कहा कि 2-3 दिन में सब ठीक हो जाएगा. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement