क्या अब Google के भरोसे घाटे से जूझती इस टेलीकॉम कंपनी की नैय्या होगी पार!

गूगल वोडाफोन-आईडिया की लगभग 5 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने पर विचार कर रहा है.

क्या अब Google के भरोसे घाटे से जूझती इस टेलीकॉम कंपनी की नैय्या होगी पार!

प्रतीकात्मक.

नई दिल्ली:

टेक जायंट गूगल (Google) अब वित्तीय संकट से जूझ रही संचार कंपनी वोडाफोन-आईडिया (Vodafone- Idea) में निवेश करने जा रही है. इस मामले से परिचित लोगों का हवाला देते हुए फाइनेंशियल टाइम्स (Finacial Times) की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि गूगल वोडाफोन-आईडिया की लगभग 5 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने पर विचार कर रहा है. अखबार ने दावा किया कि अभी यह प्रक्रिया अभी प्रारंभिक चरण में है. 

आपको बता दें कि Google के पैरेंट अल्फाबेट (Alphabet) इससे पहले जियो (JIO) की हिस्सेदारी खरीदने को लेकर भी कदम आगे बढ़ा चुकी है. लेकिन इस डील में उसे अपने प्रतिद्वंदी से पिछड़ना पड़ा था. ऐसे में अब वोडाफोन आइडिया के जरिए संभावित रूप से गूगल को फेसबुक और एक तेजी से प्रभावी Jio के खिलाफ खड़ा किया जाएगा, कंपनी भारत में कई निवेश भी कर सकती है,

इस रिपोर्ट के बारे में जब वोडाफोन प्रतिक्रिया मांगी गई तो कंपनी ने कहा कि वह बाजार की अटकलों पर टिप्पणी नहीं करती है, वहीं Google ने भी इस पर कोई भी टिप्पणी के अनुरोध का जवाब नहीं दिया.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, वोडाफोन आइडिया पर करीब 53 हजार करोड़ रुपये का एजीआर बकाया है. कंपनी ने अब तक दूरसंचार विभाग को महज 3,500 करोड़ रुपये का ही भुगतान किया है. कंपनी ने कहा कि उसे राजस्व का वह स्तर पाने में तीन साल लगेंगे, इसी कारण उसने एजीआर जुर्माने व ब्याज के भुगतान में तीन साल की छूट की मांग की है.

सुप्रीम कोर्ट की कड़ी नाराज़गी के बाद टेलीकॉम कंपनियां चुका रही हैं रकम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com