NDTV Khabar

घर खरीदने का सही समय, जनवरी-मार्च में गिरे औसतन सात प्रतिशत दाम

मार्च तिमाही के दौरान बिना बिके फ्लैटों की संख्या दो प्रतिशत घटकर 5,95,074 इकाई पर आ गई, जो इससे पिछली तिमाही में 6,08,949 इकाई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
घर खरीदने का सही समय, जनवरी-मार्च में गिरे औसतन सात प्रतिशत दाम

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

देश के नौ प्रमुख शहरों में जनवरी-मार्च तिमाही में इससे पिछली तिमाही की तुलना में मकान औसतन सात प्रतिशत सस्ते हुए हैं. रीयल एस्टेट शोध एवं विश्लेषण कंपनी प्रॉपइक्विटी के अनुसार घरों की मांग कम रहने की वजह से डेवलपर्स दाम घटा रहे हैं. मार्च तिमाही के दौरान बिना बिके फ्लैटों की संख्या दो प्रतिशत घटकर 5,95,074 इकाई पर आ गई, जो इससे पिछली तिमाही में 6,08,949 इकाई थी.

तिमाही के दौरान घरों की बिक्री आठ प्रतिशत बढ़कर 40,694 इकाई पर पहुंच गई, जो इससे पिछली तिमाही में 37,555 इकाई थी. इस रिपोर्ट में शामिल किए गए नौ शहरों में गुरुग्राम, नोएडा, मुंबई, कोलकाता, पुणे, हैदराबाद, बेंगलुरु, ठाणे और चेन्नई हैं.

टिप्पणियां

तिमाही के दौरान औसतन कीमत सात प्रतिशत घटकर 6,762 रुपये प्रति वर्गफुट से घटकर 6,260 रुपये प्रति वर्गफुट रह गई. समीक्षाधीन अवधि में नए घरों की पेशकश 48 प्रतिशत बढ़कर 17,550 इकाई से 25,970 इकाई पर पहुंच गई.


प्रॉपइक्विटी के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी समीर जसूजा ने कहा कि हमारा अनुमान है कि पहली तिमाही से रीयल्टी बाजार में स्थिरता आनी शुरू होगी. ‘‘पहली तिमाही में नए मकानों की पेशकश बढ़ी है. आगे भी यह रुख जारी रहने की उम्मीद है. डेवलपर्स मध्यम और सस्ते मकानों के खंड पर अधिक ध्यान देंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement