NDTV Khabar

RSS से जुड़े मजदूर संगठन ने किया एयर इंडिया को बेचने का विरोध

मंच के सह-संयोजक अश्विनी महाजन ने कहा कि एयर इंडिया को परिचालन से मुनाफा हो रहा है लेकिन ऋण बोझ के कारण यह घाटे में चली जा रही है.

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
RSS से जुड़े मजदूर संगठन ने किया एयर इंडिया को बेचने का विरोध

एयर इंडिया को सरकार बेचना चाहती है.

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच ने मौजूदा तरीके से एयर इंडिया के विनिवेश का विरोध किया. उसने कहा कि सरकार को ऋण भुगतान के लिए अपनी हिस्सेदारी बेचने के बजाय एयर इंडिया की संपत्तियों की बिक्री कर धन जुटाना चाहिये. मंच के सह-संयोजक अश्विनी महाजन ने कहा कि एयर इंडिया को परिचालन से मुनाफा हो रहा है लेकिन ऋण बोझ के कारण यह घाटे में चली जा रही है.

उन्होंने कहा, ‘‘अत: इसमें हिस्सेदारी बेचने के बजाय सरकार को ऋण भार कम करने के लिए इसकी जमीनें बेचनी चाहिए.’’

महाजन का बयान इस लिए प्रासंगिक हो जाता है क्योंकि यह आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान के बाद आया है जिसमें कहा गया था कि एयर इंडिया को किसी विदेशी कंपनी के हाथों नहीं बेचा जाना चाहिए.

महाजन ने कहा कि स्वदेशी जागरण मंच मौजूदा स्वरूप में एयर इंडिया के विनिवेश का विरोध करता है. उसने कहा कि ऋण का भुगतान कर कंपनी को मुनाफे में लाया जा सकता है.

टिप्पणियां
उन्होंने एयरलाइंस की खराब स्थिति के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के कार्यकाल के दौरान एयर इंडिया के मुनाफे को अन्य कंपनियों के हाथों जाने दिया गया.

एयर इंडिया में सरकार की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी है. सरकार ने इसमें 76 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिए बोलियां मंगायी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement