NDTV Khabar

रुपये में मजबूती से हो रहा है नुकसान, यह आपको हैरानी भरा लगेगा लेकिन सच है

रुपये में मजबूती से निर्यातकों का कारोबार प्रभावित हुआ है, जिसे निर्यात की जानेवाली वस्तुओं में आई गिरावट से नापा जा सकता है.

206 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
रुपये में मजबूती से हो रहा है नुकसान, यह आपको हैरानी भरा लगेगा लेकिन सच है

रुपये में मजबूती से हो रहा है नुकसान, यह आपको हैरानी भरा लगेगा लेकिन सच है- प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: मुद्रास्फीति काबू में होने के बावजूद रुपये की कीमत उसके वास्तविक मूल्य से ज्यादा है, जिससे निर्यातकों का कारोबार प्रभावित हो रहा है. डॉलर के खिलाफ रुपये के मूल्य में बढ़ोतरी से निर्यातकों की प्रतिस्पर्धी क्षमता सीधे प्रभावित होती है. एसोचैम द्वारा जारी एक रिपोर्ट में यह बातें कही गईं.

यह भी पढ़ें- रुपये ने आज फिर दिखाई रिकॉर्ड मजबूती, लेकिन क्या यह चिंता का विषय भी है?- पांच जरूरी बातें

एसोचैम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है, "पिछले एक साल में रुपया करीब 6 फीसदी गिरा था लेकिन अगस्त में यह डॉलर के खिलाफ 66.93 की बजाए 63.63-70 के स्तर पर है. इससे स्पष्ट है कि रुपये के बाह्य मूल्य में मजबूती आई है. वहीं, दूसरी तरफ मुद्रास्फीति में पांच साल की सबसे बड़ी गिरावट के बावजूद उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के रिवर्स अनुपात में यह मजबूती पर बना हुआ है."

यह भी पढ़ें- मध्यप्रदेश सरकार की आमदनी है अठन्नी और ख़र्चा रुपया

टिप्पणियां
इसमें कहा गया, "हां, मुद्रास्फीति कमजोर है, लेकिन अभी भी यह अपस्फिति की स्थिति है, क्योंकि कीमतों में गिरावट नहीं हुई है. इसका मतलब यह है कि रुपये से अभी भी कम वस्तुएं ही खरीदी जा सकती हैं (कम से कम 1.58 फीसदी तक), लेकिन जब इसका मूल्य डॉलर के खिलाफ नापा जाता है तो यह करीब 6 फीसदी बढ़ा है."

वीडियो- 12 बड़े बकायेदारों से कर्ज वसूलने की तैयारी

रुपये में मजबूती से निर्यातकों का कारोबार प्रभावित हुआ है, जिसे निर्यात की जानेवाली वस्तुओं में आई गिरावट से नापा जा सकता है. इसमें कोई शक नहीं है कि जून तक पिछले 9 महीनों में निर्यात में बढ़ोतरी दर्ज की गई है, लेकिन आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) ने भी दर्ज किया है कि अप्रैल में तेजी के बाद से मई और जून में निर्यात की वृद्धि दर प्रभावित हुई है. क्योंकि सभी वस्तुओं का निर्यात मूल्य धीमा हुआ है या घटा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement