NDTV Khabar

जुलाई-सितंबर तिमाही में नौ प्रमुख शहरों में घरों की बिक्री 18 प्रतिशत घटी

रीयल्टी पोर्टल प्रॉप टाइगर डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार नए रीयल एस्टेट कानून रेरा के क्रियान्वयन की वजह से दूसरी तिमाही में नए मकानों की पेशकश 53 प्रतिशत घटकर 22,115 इकाई पर आ गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जुलाई-सितंबर तिमाही में नौ प्रमुख शहरों में घरों की बिक्री 18 प्रतिशत घटी

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में नौ प्रमुख शहरों में मकानों की बिक्री 18 प्रतिशत घटकर 44,755 इकाई रह गई. एक रिपोर्ट में गुरुवार को कहा गया है कि संपत्ति बाजार में सुस्ती से घरों की मांग घटी है. रीयल्टी पोर्टल प्रॉप टाइगर डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार नए रीयल एस्टेट कानून रेरा के क्रियान्वयन की वजह से दूसरी तिमाही में नए मकानों की पेशकश 53 प्रतिशत घटकर 22,115 इकाई पर आ गई. रिपोर्ट में कहा गया है कि सात शहरों पुणे, नोएडा, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता और अहमदाबाद में घरों की बिक्री तथा नई पेशकश दोनों में गिरावट आई. वहीं दो शहरों मुंबई और गुरुग्राम में मांग एवं आपूर्ति दोनों में बढ़ोतरी हुई.

प्रॉप टाइगर डॉट कॉम के मुख्य निवेश अधिकारी अंकुर धवन ने कहा, ‘नई रेरा और जीएसटी व्यवस्था से दूसरी तिमाही में जहां कम संख्या में नए मकान पेश किए गए, वहीं बिक्री में भी गिरावट आई. हालांकि, जुलाई और अगस्त की तुलना में सितंबर में घरों की बिक्री कुछ बढ़ी है. हालांकि, इसकी वजह डेवलपर्स द्वारा दी गई त्योहारी छूट और रियायतें हैं.’

यह भी पढ़ें : सरकार ने निजी जमीन पर 30,000 सस्ते मकानों के निर्माण को मंजूरी दी, जानें कहां बनेंगे ये घर

जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान अहमदाबाद में बिक्री में सबसे अधिक 46 प्रतिशत की गिरावट आई है और यह 2,222 इकाई रह गई.



पुणे में घरों की बिक्री 32 प्रतिशत घटकर 7,214 इकाई, नोएडा में 29 प्रतिशत घटकर 3,606 इकाई, बेंगलुरु में 27 प्रतिशत घटकर 6,976 इकाई, चेन्नई में 23 प्रतिशत घटकर 2,945 इकाई, कोलकाता में 21 प्रतिशत घटकर 2,993 इकाई और हैदराबाद में 18 प्रतिशत घटकर 3,356 इकाई रह गई. इस अवधि में गुरुग्राम में घरों की बिक्री 60 प्रतिशत बढ़कर 3,342 इकाई रही. मुंबई में यह छह प्रतिशत बढ़कर 12,101 इकाई रही.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement