NDTV Khabar

SBI ने दिया होमलोन ग्राहकों को झटका : MCLR में की बढ़ोतरी, अब इनको देनी होगी ज्यादा EMI

एसबीआई द्वारा इस बढ़ोतरी से हर महीने की ईएमआई पर बड़ा असर पड़ेगा. यह पहली बार है जब बैंक ने एमसीएलआर लागू होने के बाद से इजाफा किया है.

217 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
SBI ने दिया होमलोन ग्राहकों को झटका : MCLR में की बढ़ोतरी, अब इनको देनी होगी ज्यादा EMI

SBI ने दिया होमलोन ग्राहकों को झटका : MCLR में की बढ़ोतरी (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने होली के मौके पर जहां एक और बुधवार को मियादी जमाओं पर ब्याज दरों में इजाफा कर लोगों को खुशखबरी दी, वहीं आज एमसीएलआर में इजाफे का ऐलान करके अपने होमलोन कस्टमर की पेशानी पर बल डाल दिए. होमलोन लेने की सोच रहे या फिर पहले से भी बैंक के होमलोन कस्टमर को अब ब्याज दरों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी के चलते प्रति माह जाने वाली किश्त के तौर पर ज्यादा पैसा चुकाना होगा. एसबीआई द्वारा इस बढ़ोतरी से हर महीने की ईएमआई पर बड़ा असर पड़ेगा. यह पहली बार है जब बैंक ने एमसीएलआर लागू होने के बाद से इजाफा किया है.

SBI ने ग्राहकों को दिया होली का तोहफा : एफडी पर ब्याज दरें बढ़ाईं

सबसे अहम बात....
यहां यह बताना जरूरी है कि चूंकि बैंक ने एमसीएलआर में इजाफा किया है इसलिए इसका असर केवल उन्हीं ग्राहकों पर पड़ेगा जिनके किसी भी प्रकार के लोन (होमलोन, कार लोन आदि) एमसीएलआर से लिंक्ड हैं. जिन लोगों के लोन बेस रेट पर पर लिया है या लेने वाले हैं, उन पर इसका असर नहीं पड़ेगा. ये दरें 1 मार्च 2018 से प्रभावी हो गई हैं.

0.25 फीसदी का इजाफा
बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (एमसीएलआर) से लिंक सभी तरह के लोन पर अपनी ब्याज दरों में इजाफा किया है. इस रेट के तहत उसने पूर्ववर्ती 7.9 फीसदी रेट को बढ़ाकर 8.15 फीसदी कर दिया है. यानी इसमें 0.25 फीसदी का इजाफा किया गया है.

भारतीय स्टेट बैंक ने करीब 1300 शाखाओं के नाम, आईएफएससी कोड बदले

पीएनबी ने भी किया रेट में इजाफा
वहीं, पीएनबी ने MCLR की दर में 0.15 फीसदी की बढ़ोतरी की है. यह रेट भी 1 मार्च 2018 से लागू हो गया है. पीएनबी का एमसीएलआर 8.15 फीसदी था जोकि बढ़कर 8.30 कर दिया गया है.

टिप्पणियां
इसके यह हो सकते हैं संकेत...
देश के केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने अप्रैल 2016 से ही एमसीएलआर शुरू किया था. यहां गौर करें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया दरों में बढ़ोतरी नहीं कर रहा है लेकिन फिर भी पीएनबी और एसबीआई ने रेट में बदलाव किया है. इससे एक कयास यह लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में अन्य बैंक भी दरों में इजाफा कर सकते हैं.

समय अवधि के मुताबिक, पहल और अब के एमसीएलआर रेट...
 
TenorExisting MCLR (In %)Revised MCLR (In %)
Overnight7.77.8
One month7.87.8
Three months7.857.85
Six months7.98
One year7.958.15
Two years8.058.25
Three years8.18.35

(एजेंसियों से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement