SBI दुनिया के 50 सबसे बड़े बैंकों में शुमार, अब बैंक के पास 37 करोड़ खाताधारक और 24,000 ब्रांच

SBI दुनिया के 50 सबसे बड़े बैंकों में शुमार, अब बैंक के पास 37 करोड़ खाताधारक और 24,000 ब्रांच

फाइल फोटो

खास बातें

  • SBI में 5 सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक का विलय
  • विलय के बाद बैंक की जमा राशि 26 लाख करोड़ रुपये से अधिक होगी
  • देशभर में उसके 59,000 एटीएम होंगे
नई दिल्ली:

स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर सहित भारतीय स्टेट बैंक के पांच सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक का शनिवार 1 अप्रैल को देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक में विलय हो गया. इसके साथ ही स्टेट बैंक दुनिया के 50 बड़े बैंकों में शामिल हो गया है. इस विलय के साथ भारतीय स्टेट बैंक के खाताधारकों की कुल संख्या 37 करोड़ और उसकी शाखाओं का नेटवर्क 24,000 के आंकड़े को छू जाएगा. देशभर में उसके 59,000 एटीएम होंगे. विलय के बाद बैंक की जमा राशि 26 लाख करोड़ रुपये से अधिक और कर्ज पर दी गई राशि 18.50 लाख करोड़ रुपये होगी.

स्टेट बैंक द्वारा शनिवार को जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर (एसबीबीजे), स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (एसबीएच), स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (एसबीएम), स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (एसबीपी) और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (एसबीटी) तथा भारतीय महिला बैंक (बीएमबी) का 1 अप्रैल से भारतीय स्टेट बैंक में विलय हो गया है.

बैंक ने कहा है, 'छह बैंकों के इस व्यापक विलय के साथ भारतीय स्टेट बैंक ने एक बार फिर बदलाव और बैंकों में देश का अग्रणी बैंक होने तथा मूल्यों के सृजन की अपनी क्षमता को साबित किया है.' इसमें कहा गया है कि इस विलय के साथ स्टेट बैंक संपत्ति के आधार पर दुनिया के 50 शीर्ष बैंकों की जमात में शामिल हो गया है.
(इनपुट भाषा से)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com