NDTV Khabar

शेयर बाजार धड़ाम : 19 महीने के निचले स्‍तर पर पहुंचा सेंसेक्स, 555 अंक लुढ़का

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार धड़ाम : 19 महीने के निचले स्‍तर पर पहुंचा सेंसेक्स, 555 अंक लुढ़का

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई: देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को गिरावट का रुख रहा। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 554.50 अंकों की गिरावट के साथ 24,851.83 पर और निफ्टी 172.70 अंकों की गिरावट के साथ 7,568.30 पर बंद हुआ। इस तरह सेंसेक्‍स 19 महीने के निचले स्‍तर पर पहुंच गया। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 181.63 अंकों की गिरावट के साथ 25,224.70 पर खुला और 554.50 अंकों या 2.18 फीसदी गिरावट के साथ 24,851.83 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 25,230.35 के ऊपरी और 24,825.70 के निचले स्तर को छुआ।

निफ्टी में भी रही गिरावट
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 67.65 अंकों की गिरावट के साथ 7,673.35 पर खुला और 172.70 अंकों या 2.23 फीसदी गिरावट के साथ 7,568.30 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 7,674.95 के ऊपरी और 7,556.60 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट का रुख रहा। मिडकैप 290.26 अंकों की गिरावट के साथ 10,849.23 पर और स्मॉलकैप 340.66 अंकों की गिरावट के साथ 11,509.68 पर बंद हुआ।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों में गिरावट रही। रियल्टी (4.50 फीसदी), धातु (3.72 फीसदी), वाहन (3.72 फीसदी), आधारभूत सामग्री (3.65 फीसदी) और औद्योगिक (3.54 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट रही।
 

चीन में शेयर बाजारों में कारोबार रुका...
चीन की मुद्रा युआन के अवमूल्यन के बाद लगातार दूसरे दिन वहां भारी गिरावट के चलते कारोबार रोकना पड़ा। इसका भारतीय बाजारों पर असर देखा गया। अमेरिकी डॉलर के समक्ष रपये की नरमी का भी बाजार पर असर रहा।

चीन का शंघाई शेयर सूचकांक कारोबार के शुरआती दौर में 7.32 प्रतिशत टूट गया जिसकी वजह से बाजार प्रशासन को कारोबार रोकना पड़ा। तमाम एशियाई बाजारों में भी इसका असर देखा गया।

कारोबारियों की चिंता बढ़ी...
दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था चीन में आर्थिक वृद्धि की धीमी चाल से कारोबारियों की चिंता बढ़ी है। अर्थव्यवस्था की धीमी चाल से चीन की मुद्रा पर भी असर पड़ा है। चीन के केन्द्रीय बैंक ने आज चीनी मुद्रा युआन का 0.51 प्रतिशत अवमूल्यन किया है। इसके बाद एक डालर के समक्ष युआन का मूल्य 6.5646 युआन रह गया। यह मार्च 2011 के बाद डालर के समक्ष युआन का सबसे कम विनिमय मूल्य है।

चीन के बाजारों में आई गिरावट के असर से बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक कारोबार के शुरुआती घंटे में 406.54 अंक टूटकर 25,000 से नीचे गिरकर 24,999.79 अंक पर आ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 116 अंक से अधिक गिरकर 7,700 से नीचे आ गया था।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement