NDTV Khabar

शेयर बाजार की साप्ताहिक समीक्षा : सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाइयों पर बंद हुआ

इसके अलावा अमेरिकी शेयर बाजार में भी रिकार्ड तेजी दर्ज की गई और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार का रुख रहा, जिसका घरेलू बाजार पर सकारात्मक असर देखा गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार की साप्ताहिक समीक्षा : सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाइयों पर बंद हुआ

प्रतीकात्मक फोटो

मुंबई: बीते सप्ताह प्रमुख सूचकांक नई ऊंचाइयों पर बंद हुए, जिसमें विश्व बैंक की 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस' रिपोर्ट में भारत की रैकिंग 130 से बढ़कर 100 हो जाने का प्रमुख योगदान रहा. इसके अलावा अमेरिकी शेयर बाजार में भी रिकार्ड तेजी दर्ज की गई और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार का रुख रहा, जिसका घरेलू बाजार पर सकारात्मक असर देखा गया. साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 528.34 अंकों या 1.59 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 33,685.56 पर बंद हुआ और निफ्टी 129.45 अंकों या 1.25 फीसदी की तेजी के साथ 10,452.50 अंकों पर बंद हुआ. बीएसई के मिडकैप सूचकांक में 2.03 फीसदी तथा स्मॉलकैप सूचकांक में 3.19 फीसदी की तेजी दर्ज की गई.

सोमवार को सेंसेक्स 108.94 अंकों या 0.33 फीसदी के तेजी के साथ 33,266.16 अंक पर बंद हुआ। मंगलवार को इसमें गिरावट दर्ज की गई और यह 53.03 अंकों या 0.16 फीसदी की गिरावट के साथ 33,213.13 पर बंद हुआ. बुधवार को एक बार फिर बाजार में तेजी आई और सेंसेक्स 387.14 अंकों या 1.17 फीसदी की तेजी के साथ 33,600.27 पर बंद हुआ.

गुरुवार को मुनाफावसूली के कारण बाजार में गिरावट आई और सेंसेक्स 27.5 अंकों या 0.08 फीसदी की गिरावट के साथ 33,573.22 पर बंद हुआ. शुक्रवार को सेंसेक्स 112.34 अंकों या 0.33 फीसदी की तेजी के साथ 33,685.56 पर बंद हुआ. बीते सप्ताह सेंसेक्स के 30 शेयरों में तेजी और 17 में गिरावट रही। इसमें तेजी वाले शेयरों में प्रमुख रहे- भारतीय स्टेट बैंक (4.52 फीसदी), टाटा मोटर्स (3.92 फीसदी), सिप्ला (2.62 फीसदी), एचडीएफसी बैंक (2.13 फीसदी), रिलायंस इंडस्ट्रीज (1.74 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (4.95 फीसदी), ल्यूपिन (4.84 फीसदी), भारती एयरटेल (11.6 फीसदी), डॉ. रेड्डीज (0.93 फीसदी) और एक्सिस बैंक (11.46 फीसदी).

टिप्पणियां
सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे- महिंद्रा एंड महिंद्रा (3.95 फीसदी), इंफोसिस (2.2 फीसदी), हिन्दुस्तान यूनीलीवर (1.55 फीसदी), कोटक महिंद्रा बैंक (1.52 फीसदी), हीरो मोटोकॉर्प (2.9 फीसदी), बजाज ऑटो (2.2 फीसदी), एनटीपीसी (0.66 फीसदी), टाटा स्टील (2.39 फीसदी) और पावर ग्रिड (0.28 फीसदी). व्यापक आर्थिक आंकड़ों के मोर्चे पर, देश के विनिर्माण क्षेत्र में अक्टूबर में गिरावट दर्ज गई, जो कि 50.3 फीसदी रही, जबकि सितंबर में यह 51.2 फीसदी थी। इस सूचकांक में 50 से ऊपर तेजी और 50 से नीचे का अंक गिरावट का सूचक है.

VIDEO- धंधा है पर मंदा है : आखिर क्यों घट रहा है मुनाफ़ा?

विश्व बैंक ने मंगलवार को डूइंग बिजनेस (डीबी) रिपोर्ट 2018 जारी किया, जिसमें 190 देशों में भारत की रैकिंग 100 रही, जबकि एक साल पहले भारत की रैंकिंग 130 थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement