NDTV Khabar

शेयर बाजार- 28 अंक तेजी के साथ 31,596 के स्तर पर बंद हुआ सेंसेक्स, फॉर्मा स्टॉक्स में रही तेजी

बीएसई में आईटी, धातु, टेक, हेल्थकेयर, पावर और एफएमसीजी समूहों की कंपनियों में बढ़त देखने को मिली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार- 28 अंक तेजी के साथ 31,596 के स्तर पर बंद हुआ सेंसेक्स, फॉर्मा स्टॉक्स में रही तेजी

प्रतीकात्मक फोटो

मुंबई: कारोबारी सप्ताह के चौथे दिन शेयर बाजारों में तेजी पर कारोबार का अंत हुआ. सेंसेक्स 28 अंक तेजी के साथ 31596 के स्तर पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 9857 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं बीएसई मिडकैप शेयरों में भी तेजी देखी गई. फॉर्मा स्टॉक्स में तेजी रही और ऑरबिंदो फॉर्मा के स्टॉक्स सर्वाधिक उछले.

पढ़ें- सेंसेक्स की टॉप10 कंपनियों में से आठ का मार्केट कैप 54,968 करोड़ रुपये बढ़ा

आज इंफोसिस और टीसीएस में 1 फीसदी की तेजी दर्ज की गई. बीएसई में आईटी, धातु, टेक, हेल्थकेयर, पावर और एफएमसीजी समूहों की कंपनियों में बढ़त देखने को मिली. विश्लेषकों ने बताया कि अन्य एशियाई बाजारों की तेजी से घरेलू बाजार को समर्थन मिला है. घरेलू संस्थागत निवेशकों के लिवाल बने रहने से भी बाजार पर सकारात्मक असर पड़ा है.

नंदन नीलेकणि के कंपनी के शीर्ष पद पर वापस लौटने के कयासों के कारण देश की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस सर्वाधिक 1.62 फीसदी की बढ़त में रही. सन फार्मा, टाटा मोटर्स, ल्यूपिन, पावरग्रिड, एनटीपीसी, सिप्ला, हीरो मोटोकॉर्प, एलएंडटी, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, आईटीसी लिमिटेड, ओएनजीसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 1.23 प्रतिशत तक चढ़े.

पढ़ें-सेबी ने संकटग्रस्त सूचीबद्ध कंपनियों में हिस्सेदारी खरीदने के नियमों में ढील दी

आज सुबह अमेरिकी बाजार की नरमी के बीच एशियाई बाजारों के सकारात्मक संकेतों के बल पर घरेलू बाजार आज शुरुआती कारोबार में बढ़त में रहे और सेंसेक्स 110 अंक मजबूत हो गया. बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 110.18 अंक यानी 0.34 फीसदी की बढ़त लेकर 31,678.19 अंक पर रहा. पिछले दो कारोबारी सत्र में यह 309.16 अंक मजबूत हो चुका है. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 29 अंक यानी 0.29 प्रतिशत की तेजी के साथ 9,881.50 अंक पर रहा.

वीडियो- एक शुरुआत शेयर बाजार को समझने की... 


टिप्पणियां
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को एक रैली में कहा था कि मैक्सिको से लगती सीमा पर दीवार बनाने के लिए धन की व्यवस्था सुनिश्चित करने को वह अपनी सरकार तक ठप कर सकते हैं. उनके इस बयान से अमेरिकी बाजार प्रभावित हुआ. 

इनपुट- एजेंसियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement