NDTV Khabar

शेयर बाजार : लगातार पांचवें दिन बढ़त के साथ बंद हुए सेंसेक्स और निफ्टी

सेंसेक्स 160.69 अंक चढ़कर 34,101.13 अंक पर और निफ्टी 56.40 अंक सुधरकर 10,458.65 अंक पर बंद हुआ है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार : लगातार पांचवें दिन बढ़त के साथ बंद हुए सेंसेक्स और निफ्टी

शेयर बाजार आज सपाट खुले.

मुंबई: शेयर बाजार में गुरुवार को भी तेजी रही और लगातार पांचवें दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए. सेंसेक्स 160.69 अंक चढ़कर 34,101.13 अंक पर और निफ्टी 56.40 अंक सुधरकर 10,458.65 अंक पर बंद हुआ है. सुबह गिरावट के बाद बाजार ने तेजी पकड़ ली एशियाई बाजारों के मिले-जुले रुख के बीच उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स और निफ्टी फ्लैट ही खुले थे. खुलने के साथ ही सेंसेक्स करीब 6 अंक नीचे और 33,934 पर था जबकि निफ्टी भी 10400 पर कारोबार कर रहा था.

बता दें कि बुधवार को सेंसेक्स 60 अंक की बढ़त के साथ 33,940 अंक पर बंद हुआ था. अमेरिका, चीन के बीच व्यापार युद्ध में नरमी के संकेत, एशियाई विकास बैंक (एडीबी) के भारत की आर्थिक वृद्धि के बेहतर अनुमान से निवेशक राहत में दिखे और बाजार में तेजी रही थी. यह लगातार पांचवां कारोबारी सत्र रहा जब बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ है.

कारोबारियों के अनुसार घरेलू संस्थागत निवेशकों की सतत लिवाली तथा अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट में कल की तेजी के बाद एशिया के अन्य बाजारों में मिले-जुले रुख के बीच घरेलू बाजार में मजबूती रही थी.

निवेशकों की नजर खुदरा मुद्रास्फीति तथा औद्योगिक उत्पादन आंकड़ों पर है. ये आंकड़े कल जारी किये जाएंगे. इसके अलावा कंपनियों के शुक्रवार से आने वाले तिमाही वित्तीय परिणाम पर भी उनकी निगाह टिकी है.

इस बीच, एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने कहा है कि जीएसटी और बैंकों में सुधार के साथ देश की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में बढ़कर 7.3 प्रतिशत रहेगी और अगले वित्त वर्ष में यह 7.6 प्रतिशत हो जाएगी. इसके साथ ही भारतीय अर्थव्यवस्था तीव्र वृद्धि वाली एशियाई अर्थव्यवस्था का रूतबा बरकरार रख पाएगी.

वैश्विक मोर्चे पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के उस संकल्प का स्वागत किया है जिसमें दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को खोले जाने की बात कही गयी है.

तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती के साथ खुला और बढ़त के साथ 33,981.54 अंक तक चला गया लेकिन बाद में मुनाफावसूली से 33,750.74 अंक तक नीचे आ गया. अंत में यह 60.19 अंक या 0.18 प्रतिशत की बढ़त के साथ 33,940.44 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले, पिछले चार सत्रों में सेंसेक्स 861.18 अंक मजबूत हुआ था.

पचास शेयरों वाला एनएसई निफ्टी भी 14.90 अंक या 0.14 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,417.15 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 10,428.15 से 10,355.60 अंक के दायरे में रहा.

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार सीमित दायरे में रहा. इसका कारण सीरिया में अमेरिकी सैन्य हमले को लेकर चिंता के कारण वैश्विक बाजार में कारोबार हल्का रहना है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसके परिणामस्वरूप कच्चे तेल के दाम में तेजी आयी जबकि घरेलू स्तर पर 10 साल के बांड पर प्रतिफल बढ़ने से चालू खाते का घाटा बढ़ने का जोखिम है. निवेशकों की नजर खुदरा मुद्रास्फीति तथा आईआईपी आंकड़े पर है.’’ 

सेंसेक्स के शेयरों में टीसीएस सर्वाधिक लाभ में रही. कंपनी का शेयर 2.85 प्रतिशत जबकि सन फार्मा 2.50 प्रतिशत मजबूत हुआ.

लाभ में रहने वाले अन्य प्रमुख शेयरों में एचयूएल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, महिंद्रा एंड महिंद्रा, कोटक बैंक, हीरो मोटो कार्प, टाटा स्टील, ओएनजीसी, इन्फोसिस, कोल इंडिया, इंडसइंड बैंक, टाटा मोटर्स तथा मारुति सुजुकी हैं.

टिप्पणियां
वहीं दूसरी तरफ अडाणी पोट्र्स, एसबीआई, यस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक तथा डा. रेड्डीज नुकसान में रहे. वैश्विक स्तर पर एशियाई शेयर बाजारों में मिला-जुला रुख रहा। एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंग सेंग 0.55 प्रतिशत, शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.56 प्रतिशत मजबूत हुए. वहीं जापान का निक्केई 0.49 प्रतिशत नीचे आया.

यूरोपीय बाजारों में फ्रैंकफर्ट का डीएएक्स 0.33 प्रतिशत, पेरिस का सीएसी 0.31 प्रतिशत तथा लंदन का एफटीएसई 0.07 प्रतिशत नीचे आया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement