NDTV Khabar

वाहन कंपनियों के बेहतर बिक्री आंकड़ों से सेंसेक्स 162 अंक चढ़ा, निफ्टी भी मजबूत

इन आंकड़ों की वजह से निवेशकों ने कल आए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के निराशाजनक आंकड़ों को नजरअंदाज कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वाहन कंपनियों के बेहतर बिक्री आंकड़ों से सेंसेक्स 162 अंक चढ़ा, निफ्टी भी मजबूत

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स लगातार सकारात्मक दायरे में रहा
  2. इसने 31,944.10 अंक का उच्चस्तर भी छुआ.
  3. लगातार दूसरी तिमाही है जब भारत चीन से पीछे रहा है.
मुंबई: वाहन कंपनियों के बेहतर बिक्री आंकड़ों तथा अगस्त महीने में विनिर्माण क्षेत्र के बेहतर प्रदर्शन के आंकड़ों से शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी रही. इन आंकड़ों की वजह से निवेशकों ने गुरुवार आए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के निराशाजनक आंकड़ों को नजरअंदाज कर दिया. बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स शुक्रवार को 162 अंक चढ़कर तीन सप्ताह के उच्चस्तर 31,892.23 अंक पर पहुंच गया. लगातार तीसरे दिन इसमें तेजी रही. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 10,000 अंक के करीब पहुंच गया.

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स लगातार सकारात्मक दायरे में रहा. इसने 31,944.10 अंक का उच्चस्तर भी छुआ. अंत में सेंसेक्स 161.74 अंक या 0.51 प्रतिशत के लाभ से 31,892.23 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले आठ अगस्त को सेंसेक्स ने इस स्तर को छुआ था. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 56.50 अंक या 0.57 प्रतिशत के लाभ से 9,974.40 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 9,983.45 से 9,909.85 अंक के दायरे में रहा. इस सप्ताह सेंसेक्स 296.17 अंक या 0.93 प्रतिशत चढ़ा है जबकि निफ्टी 117.35 अंक या 1.19 प्रतिशत के लाभ में रहा. नौ सप्ताह में आठवीं बार सेंसेक्स और निफ्टी में साप्ताहिक बढ़त दर्ज हुई है.

यह भी पढ़ें : शेयर बाजारों में कारोबार मजबूती के साथ, सेंसेक्स 71 अंक ऊंचा

त्योहारी सीजन से पहले मारुति सुजुकी की अगुवाई में वाहन कंपनियों ने अगस्त में अच्छी बिक्री दर्ज की है. निक्केई मार्किट इंडिया का विनिर्माण पीएमआई अगस्त में 51.2 पर पहुंच गया. जुलाई में यह 47.9 के निचले स्तर पर था. सकल घरेलू उत्पाद :जीडीपी: की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में तीन साल के निचले स्तर 5.7 प्रतिशत पर आ गई है. लगातार दूसरी तिमाही है जब भारत चीन से पीछे रहा है. इस तरह की चर्चा है कि भारतीय रिजर्व बैंक अक्तूबर में अगली मौद्रिक समीक्षा बैठक में ब्याज दरों में कटौती कर सकता है. इससे ब्याज दर आधारित शेयरों में लाभ रहा.

सितंबर महीने के वायदा एवं विकल्प श्रृंखला की शुरुआत से निवेशकों द्वारा नए सौदे करने से भी बाजार धारणा को बल मिला. सेंसेक्स की कंपनियों में डॉ रेड्डीज के शेयरों में सबसे अधिक 9.75 प्रतिशत का लाभ रहा. नास्डैक में सूचीबद्ध वाइवस इंक के साथ निपटान करार से कंपनी के शेयर में मजबूती आई.

VIDEO : पहली तिमाही में विकास दर गिरकर 5.7%, तीन साल के निचले स्तर पर​
अगस्त माह के बेहतर बिक्री आंकड़ों से वाहन कंपनियों अशोक लेलैंड, मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकार्प, बजाज आटो, टीवीएस मोटर्स, आयशर मोटर्स तथा महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर 5.42 प्रतिशत तक चढ़ गए.(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement