NDTV Khabar

सातवें वेतन आयोग के हिसाब का अब उपराज्यपालों को मिलेगा वेतन और भत्ता

केंद्रीय कैबिनेट ने अब यह निर्णय लिया है कि देश में केंद्र शासित इलाकों में तैनात उपराज्यपालों के वेतन और भत्तों को बढ़ाया जाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सातवें वेतन आयोग के हिसाब का अब उपराज्यपालों को मिलेगा वेतन और भत्ता

साउथ ब्लॉक के सामने से गुजरते पीएम नरेंद्र मोदी और अन्य... (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. देश में एलजी को अभी भी पुराना वेतन मिल रहा था
  2. केंद्रीय कर्मचारियों को 2016 से मिल रहा है बढ़ा हुआ वेतन
  3. केंद्रीय कैबिनेट ने लिया फैसला
नई दिल्ली: देश में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगी लोगों के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिसें 2016 में ही लागू कर दी थीं. इसके बावजूद कई ऐसे विभाग और कार्यालय रहे जहां पर इसे लागू नहीं किया जा सका था. समय समय पर इसे धीरे-धीरे लागू किया गया.  केंद्रीय कैबिनेट ने अब यह निर्णय लिया है कि देश में केंद्र शासित इलाकों में तैनात उपराज्यपालों के वेतन और भत्तों को बढ़ाया जाए.

टिप्पणियां
पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस संबंध में निर्णय लिया गया है. इसी के साथ एलजी के वेतन और भत्ते अब भारत सरकार के सचिवों के समान हो जाएंगे.

कैबिनेट द्वारा पास किए गए प्रस्ताव के मुताबिक यह बढ़ा हुआ वेतन और भत्ता 1 जनवरी 2016 से लागू होगा. 
 
बता दें कि नियमानुसार केंद्र शासित इलाकों और प्रदेशों में तैनात एलजी का वेतन और भत्ता सरकार के सचिवों से कम नहीं होना चाहिए. पिछली बार 1 जनवरी 2006 को इनके वेतन में बढ़ोतरी की गई थी. 
 
बता दें कि भारत सरकार के सचिवों का वेतन सातवें वेतन आयोग के हिसाब  बढ़ा दिया गया था. यह करीब 2,25,000 रुपये प्रति माह तक कर दिया गया था. इसे 1 जनवरी 2016 से लागू किया गया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement