NDTV Khabar

शेयर बाजार में रौनक, सेंसेक्स और निफ्टी में तेजी

शेयर बाजारों में लगातार पांचवे सप्ताह कुल मिला कर बढ़त दर्ज की गयी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार में रौनक, सेंसेक्स और निफ्टी में तेजी

शेयर बाजार.

मुंबई: शेयर बाजार में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन तेजी का रुख देखने को मिला. सुबह करीब  9.25 बजे पर 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 214 अंकों की तेजी के साथ 35184 पर कारोबार कर रहा था जबकि 50 शेयरों वाला सूचकांक निफ्टी 60 अंकों की तेजी के साथ 10752 पर कारोबार कर रहा था. बाजार में आज तेजी रहने का अनुमान पहले ही लगाया जा रहा था. जानकारी के अनुसार, देश के शेयर बाजार सोमवार को बढ़त के साथ खुले. बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 51.5 अंकों की मजबूती के साथ 35021.20 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 13.45 अंकों की बढ़त के साथ 10,705.75 पर खुला.

बता दें कि उत्तरी एवं दक्षिण कोरिया के नेताओं के बीच ऐतिहासिक बैठक से उत्साहित एशियाई बाजारों का असर भारतीय शेयर बाजारों पर भी दिखा. स्थानीय बाजार में जबरदस्त लिवाली के दम पर सेंसेक्स शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन 200 अंक से अधिक मजबूत हुआ था. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 256 अंक मजबूत होकर करीब तीन महीने के उच्चतम स्तर 34,969.70 अंक पर बंद हुआ था. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 74.50 अंक चढ़कर 10,692.30 अंक पर बंद हुआ था. 

शेयर बाजारों में लगातार पांचवे सप्ताह कुल मिला कर बढ़त दर्ज की गयी है. यह इस साल तेजी का सबसे लंबा दौर रहा. इस सप्ताह सेंसेक्स कुल मिला कर 554.12 अंक यानी 1.61 प्रतिशत और निफ्टी 128.25 अंक यानी 1.21 प्रतिशत मजबूत हुआ. 

कोरियाई देशों के नेताओं के ऐतिहासिक सम्मेलन तथा स्थायी शांति एवं परमाणु हथियारों के खात्मे पर सहमति जताने के कारण अधिकांश एशियाई बाजार बढ़त में रहे. घरेलू बाजार में एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की अगुआई में वित्तीय क्षेत्र के शेयरों में करीब नौ प्रतिशत तक की तेजी देखी गयी थी.  

रिलायंस इंडस्ट्रीज तिमाही परिणाम जारी होने से पहले करीब दो प्रतिशत चढ़ा. इस बीच वैश्विक साख निर्धारण एजेंसी फिच ने भारत की स्वायत्त वितीय साख के स्तर को स्थितर परिदृश्य के साथ लगातार 12वें साल बीबीबी-की श्रेणी में बनाए रखा है. प्रमुख 30 शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती में खुला और एक समय 35 हजार के पार 35,065.37 अंक तक पहुंच गया था. 

बाद में कुछ खंडों में मुनाफा काटने के लिए बिकवाली शुरू होने से सेंसेक्स की तेजी पर कुछ लगाम लगी और कारोबार की समाप्ति पर यह 256.10 अंक यानी 0.74 प्रतिशत की बढ़त के साथ 34,969.70 अंक पर बंद हुआ. यह दो फरवरी के बाद का उच्चतम स्तर है जब यह 35,066.77 अंक पर बंद हुआ था. 

पिछले गुरुवार भी सेंसेक्स 212.33 अंक की तेजी के साथ बंद हुआ था. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी भी 10,719.80 से 10,647.55 अंक के दायरे में घूमने के बाद अंत में 74.50 अंक यानी 0.70 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,692.30 अंक पर बंद हुआ. 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘वैश्विक बाजारों के मजबूती में रहने तथा कंपनियों तिमाही के परिणाम बेहतर आने से निवेशकों की धारणा को बल मिला. बाजार की इस तेजी ने कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और रुपये में जारी उथल - पुथल के जोखिम को पछाड़ दिया है.’’ 

सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक सर्वाधिक 8.97 प्रतिशत मजबूत हुआ. रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर परिणाम से पहले 1.99 प्रतिशत उछलकर सर्वकालिक उच्च स्तर 1,010.70 रुपये प्रति इकाई पर पहुंच गये. 

टिप्पणियां
मुनाफे में रहने वाली अन्य मुख्य कंपनियों में भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, सन फार्मा, एलएंडटी, एशियन पेंट्स, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील, बजाज ऑटो, अडाणी पोर्ट्स, डॉ रेड्डीज, इंफोसिस, कोटक बैंक, इंडसइंड बैंक, पावरग्रिड और आईटीसी लिमिटेड शामिल रहीं. 

मारुति सुजुकी के शेयर शुद्ध मुनाफे में 10 प्रतिशत की वृद्धि के बाद भी 1.90 प्रतिश्त गिर गये. बीएसई का मिडकैप और स्मॉलकैप भी क्रमश : 0.79 प्रतिशत और 0.42 प्रतिशत मजबूत हुए थे. बीएसई के समूहों में पूंजीगत वस्तुएं, पीएसयू, तेल एवं गैस, हेल्थकेयर , धातु , रियल्टी , आधारभूत संरचना , वाहन और एफएमसीजी के शेयर 1.40 प्रतिशत तक चढ़े. हालांकि आईटी , टेक और कंज्यूमर ड्यूरेबल के शेयर गिरावट में रहे. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement