NDTV Khabar

शेयर बाजार में फिर तेजी, हरे निशान के साथ खुले सेंसेक्स और निफ्टी

सुबह 9.20 बजे सेंसेक्स 167 अंक ऊपर 35486 पर कारोबार कर रहा था जबकि निफ्टी 42 अंक ऊपर 10783 पर कारोबार कर रहा था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयर बाजार में फिर तेजी, हरे निशान के साथ खुले सेंसेक्स और निफ्टी

शेयर बाजार.

मुंबई: देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को सुबह तेजी का रुख देखने को मिला, सेंसेक्स और निफ्टी हरे निशान के साथ खुले. कुछ फार्मा कंपनियों और तेल की कंपनियों के शेयर लाल  निशान में दिखे जो कुछ ही देर में सुधर गए. सुबह 9.20 बजे सेंसेक्स 167 अंक ऊपर 35486 पर कारोबार कर रहा था जबकि निफ्टी 42 अंक ऊपर 10783 पर कारोबार कर रहा था. 

बंबई शेयर बाजार में बुधवार को लगातार तीसरे दिन तेजी का सिलसिला कायम रहा तथा सेंसेक्स 103 अंक चढ़कर 35,319.35 अंक पर पहुंच गया था. अमेरिका द्वारा ईरान के साथ परमाणु करार से हटने की घोषणा से वैश्विक स्तर पर चिंता के बावजूद प्रौद्योगिकी शेयरों में लिवाली से यहां बाजार में तेजी आई थी. डॉलर के मुकाबले रुपये के 15 महीने के निचले स्तर पर आने से आईटी कंपनियों के शेयरों में बढ़त रही थी. 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कमजोर रुख के साथ खुलने के बाद मुनाफावसूली से 35,134.20 अंक तक नीचे आया था. बाद में यह सुधार के साथ 35,404.83 अंक के उच्चस्तर तक गया. अंत में सेंसेक्स 103.03 अंक या 0.29 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,319.35 अंक पर बंद हुआ. पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स 300.94 अंक चढ़ा था.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी बिकवाली और लिवाली के सिलसिले के बीच 23.90 अंक या 0.22 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,741.70 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 10,689.85 से 10,766.25 अंक के दायरे में रहा.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा ईरान के साथ अंतरराष्ट्रीय परमाणु करार से हटने के बाद कच्चा तेल 2014 के आखिरी महीनों के बाद से उच्चस्तर 77.07 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया था. 

इस बीच , शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार घरेलू संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 923.25 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे जबकि विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 97.15 करोड़ रुपये की बिकवाली की. जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि बांड प्राप्ति में उतार-चढ़ाव से कंपनियों का मार्जिन प्रभावित होगा। इससे कंपनियों की आमदनी की उम्मीदों पर असर पड़ेगा.

सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा मोटर्स का शेयर सबसे अधिक 2.79 प्रतिशत चढ़ा था. टाटा मोटर्स की इकाई जगुआर लैंड रोवर की अप्रैल में खुदरा बिक्री 11.9 प्रतिशत बढ़कर 45,180 इकाई रही. 

अन्य कंपनियों में एशियन पेंट्स 1.69 प्रतिशत, टीसीएस 1.39 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 1.36 प्रतिशत, यस बैंक 1.31 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.06 प्रतिशत, कोटक बैंक 0.93 प्रतिशत, रिलायंस इंडस्ट्रीज 0.79 प्रतिशत, भारती एयरटेल 0.72 प्रतिशत, एचडीएफसी बैंक 0.63 प्रतिशत, इन्फोसिस 0.51 प्रतिशत, एलएंडटी 0.38, हिंद यूनिलीवर 0.25 प्रतिशत और इंडसइंड बैंक 0.23 प्रतिशत चढ़ा. 

टिप्पणियां
वहीं दूसरी ओर सनफार्मा का शेयर 1.02 प्रतिशत नीचे आया. आईसीआईसीआई बैंक में 0.70 प्रतिशत, मारुति सुजुकी में 0.70 प्रतिशत , विप्रो में 0.66 प्रतिशत, एमएंडएम में 0.64 प्रतिशत, बजाज आटो में 0.61 प्रतिशत, एनटीपीसी में 0.61 प्रतिशत, डॉ रेड्डीज में 0.57 प्रतिशत तथा एसबीआई में 0.48 प्रतिशत की गिरावट आई. बीएसई मिडकैप 0.63 प्रतिशत और स्मालकैप 0.13 प्रतिशत नीचे आया.

एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 0.44 प्रतिशत , सिंगापुर 0.15 प्रतिशत लाभ में रहे थे. वहीं जापान का निक्की 0.44 प्रतिशत तथा शांगहाए कम्पोजिट 0.07 प्रतिशत नीचे आया. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में चल रहे थे. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement