NDTV Khabar

महंगाई और औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों पर होगी बाजार की नजर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. यूरोपीय अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के मकसद से यूरोपीय केंद्रीय बैंक के बॉन्ड खरीदने की घोषणा से उत्साहित शेयर बाजार की नजर अब औद्योगिक उत्पादन और मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर होगी।
नई दिल्ली:

यूरोपीय अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के मकसद से यूरोपीय केंद्रीय बैंक के बॉन्ड खरीदने की घोषणा से उत्साहित शेयर बाजार की नजर अब औद्योगिक उत्पादन और मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर होगी।

बाजार विशेषज्ञों के अनुसार इसके अलावा यह संकेत है कि सरकार ईंधन के दाम बढ़ा सकती है, इसका भी बाजार धारणा पर असर पड़ सकता है। इन सबको देखते हुए शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव की संभावना है।

टिप्पणियां

यूरो क्षेत्र की कमजोर अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए यूरोपीय केंद्रीय बैंक द्वारा पिछले सप्ताह बॉन्ड खरीद कार्यक्रम की घोषणा को देखते हुए शेयर बाजार तेजी का रुख लिए खुल सकता है, जबकि सप्ताह के मध्य में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) और मुद्रास्फीति के आंकड़े घरेलू बाजार में नई ऊर्जा भरने वाले साबित हो सकते हैं।


जुलाई माह में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक के आंकड़े 12 सितंबर को जारी किए जाएंगे और अगस्त महीने के दौरान थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े 14 सितंबर को जारी होंगे। बाजार विश्लेषकों के अनुसार दोनों ही आंकड़े 17 सितंबर को होने वाले भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की बैठक से पहले आ रहे हैं। इससे मौद्रिक नीति की समीक्षा की दिशा भी तय होगी। इस लिहाज से भी ये आंकड़े काफी महत्वपूर्ण होंगे।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement