NDTV Khabar

बजट प्रस्तावों से इस सप्ताह बाजार में तेजी रहने के आसार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बजट प्रस्तावों से इस सप्ताह बाजार में तेजी रहने के आसार
मुंबई: आम बजट में कॉरपोरेट टैक्स में कमी एवं गार का क्रियान्वयन टाले जाने के प्रस्ताव से निवेशकों की धारणा मजबूत हुई है, जिससे इस सप्ताह शेयर बाजार में तेजी का रुख रहने की संभावना है।

शनिवार को आम बजट पेश होने के बाद विशेष कारोबारी सत्र में बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 141.38 अंक की बढ़त के साथ 29,361.50 अंक पर बंद हुआ। पिछले सप्ताह, सेंसेक्स में 130.09 अंक की बढ़त दर्ज की गई।

कैपिटल वाया ग्लोबल रिसर्च के संस्थापक व सीईओ रोहित गाडिया ने कहा, बाजार में उतार-चढ़ाव बने रहने की संभावना है, क्योंकि बजट में किए गए उपाय, शेयर बाजार के अनुमान के मुताबिक रहे। आम बजट 2015-16 में अगले चार साल के लिए कॉरपोरेट टैक्स में 5 प्रतिशत की कमी किए जाने, संपत्ति कर समाप्त किए जाने और गार का क्रियान्वयन दो साल के लिए टाले जाने का प्रस्ताव किया गया है।

एडिलवेइस सिक्युरिटीज के अध्यक्ष व सीईओ विकास खेमानी ने कहा, बजट में कॉरपोरेट टैक्स को तर्कसंगत बनाने, अप्रैल, 2016 तक जीएसटी को लागू करने, कालाधन पर अंकुश लगाने की रूपरेखा पेश की गई है। इससे सरकार के दीर्घकालीन विजन एवं दहाई अंक में वृद्धि की आधारशिला रखे जाने का संकेत मिलता है।

रेलीगेयर सिक्युरिटीज के अध्यक्ष (खुदरा वितरण) जयंत मांगलिक ने कहा, जिस तरह से बाजार शनिवार को बंद हुआ, उससे आगे तेजी का रुख बनने का संकेत मिलता है। हालांकि, काफी कुछ विदेशी निवेशकों की प्रतिक्रिया पर निर्भर करता है। शेयर बाजार का रख विदेशी निवेशकों के निवेश, डॉलर के मुकाबले रुपया में उतार-चढ़ाव एवं कच्चे तेल की कीमतों पर निर्भर करेगा।

आनंद राठी फाइनेंशियल सर्विसेज के संस्थापक व चेयरमैन आनंद राठी ने कहा, मेरा मानना है कि दीर्घकाल में बाजार की प्रतिक्रिया बजट को लेकर सकारात्मक रहेगी, क्योंकि बजट में कई नए कदम उठाए गए हैं। शेयर बाजार अगले दो-तीन साल प्रति वर्ष 15 से 20 प्रतिशत की दर से बढ़ना चाहिए।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement