NDTV Khabar

दूरसंचार कंपनियों ने फरवरी में एक करोड़ नए ग्राहक बनाए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

वायरलेस कनेक्शनों में बढ़ोतरी से देश में कुल फोन ग्राहकों का आंकड़ा फरवरी में एक करोड़ के इजाफे के साथ 93.19 करोड़ पर पहुंच गया। जनवरी की तुलना में यह 1.08 प्रतिशत की बढ़ोतरी है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार जनवरी में देश में फोन ग्राहकों की संख्या 92.20 करोड़ थी, जो जनवरी में बढ़कर 93.19 करोड़ पर पहुंच गई। मासिक आधार पर यह 1.08 प्रतिशत की बढ़ोतरी है। इस वृद्धि में मुख्य योगदान वायरलेस कनेक्शनों तथा डोंगल आधारित उपयोगकर्ताओं ने दिया। वहीं लैंडलाइन फोन कनेक्शनों की संख्या घटी।

ट्राई के अनुसार फरवरी में मोबाइल फोन कनेक्शनों की संख्या 89.33 करोड़ से बढ़कर 90.33 करोड़ हो गई, जो 1.12 फीसद की वृद्धि है। फरवरी में इनमें से अधिकतम 78 करोड़ या 86.37 फीसदी कनेक्शन सक्रिय थे। दूसरी ओर, लैंडलाइन कनेक्शनों की संख्या जनवरी के 2.87 करोड़ से घटकर फरवरी में 2.85 करोड़ रह गई।

आइडिया सेल्युलर के मोबाइल ग्राहकों की संख्या 33.32 लाख बढ़कर 13.35 करोड़ पर पहुंच गई। इस दौरान भारती एयरटेल के ग्राहकों का आंकड़ा 26.56 लाख बढ़ा, जबकि वोडाफोन ने 21.55 लाख नए ग्राहक जोड़े। 22 में से छह सेवा क्षेत्रों में परिचालन कर रही नई ऑपरेटर टेलीविंग्स (यूनिनॉर) ने माह के दौरान 9.7 लाख नए ग्राहक बनाए। एयरसेल ने इस अवधि में 7 लाख और वीडियोकॉन ने 5.8 लाख नए कनेक्शन जोड़े। रिलायंस कम्युनिकेशंस के ग्राहकों की संख्या में 2.26 लाख का इजाफा हुआ।

सार्वजनिक क्षेत्र की बीएसएनएल व एमटीएनएल ने क्रमश: 1.18 लाख व 12,037 नए ग्राहक बनाए। एमटीएस ब्रांड के तहत सेवाएं देने वाली सिस्तेमा श्याम टेलीसर्विसेज के ग्राहकों की संख्या में फरवरी में 6.53 लाख की कमी आई। टाटा टेलीसर्विसेज के ग्राहकों की संख्या इस दौरान 47,594 घटी, जबकि सिर्फ मुंबई में परिचालन करने वाली लूप ने 10,039 ग्राहक गंवाए।

फरवरी में 24.71 लाख लोगों ने मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के तहत अपना ऑपरेटर बदलने के लिए आवेदन किय। इस तरह अब तक मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के लिए आवेदन करने वालों की संख्या 11.4 करोड़ हो गई है।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement