NDTV Khabar

फर्जी आधार कार्ड : UIDAI ने सूचनाएं देने से मना किया, कहा- देश को खतरा

192 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
फर्जी आधार कार्ड : UIDAI ने सूचनाएं देने से मना किया, कहा- देश को खतरा

UIDAI ने फर्जी आधार कार्ड संबंधी सूचनाएं देने से मना किया, कहा- देश को खतरा (प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. UIDAI ने फर्जी या नकली आधार कार्ड के बारे में सूचना देने से मना किया
  2. कहा- इससे राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा हो सकता है
  3. सूचना का अधिकार कानून (RTI) के तहत दाखिल अर्जी पर कहा
नई दिल्ली: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने फर्जी या नकली आधार कार्ड के बारे में सूचना देने से मना कर दिया है. उसका कहना है कि इससे राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा हो सकता है या अपराध को प्रोत्साहन मिल सकता है.

न्यूज एजेंसी पीटीआई के संवाददाता की ओर से सूचना का अधिकार कानून (RTI) के तहत दाखिल अर्जी पर यह भी नहीं बताया कि ऐसे मामलों में प्राधिकरण ने क्या कार्रवाई की है।

इसने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 के तहत यूआईडीएआई की केंद्रीय पहचान-सूचना कोष (सीआईडीआर) सुविधाएं, सूचना सम्पत्तियां, संचालन सुविधाएं एवं ढांचा तथा उस पर निर्भर चीजें ‘संरक्षित प्रणाली’ के वर्ग में रखी गयी हैं।

ऐसे में शिकायत संबंधी सूचना संग्रह को सार्वजनिक करना राष्ट्रीय सुरक्षा को प्रभावित कर सकता है क्यों कि यह यूआईडीएआई सीडीआर परिचालन का हिस्सा है।

प्राधिकारण से नकली और फर्जी आधार जारी किए जाने की घटनाओं और इन मामलों में कार्रवाई का विवरण मांगा गया था। जवाब में उसने कहा कि ये सूचनाएं आरटीआई कानून की धार 8-ए के तहत आती है अत: इन्हें देने से इंकार किया जाता है।
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement