NDTV Khabar

भारत की विकास दर अगले साल 8 फीसदी संभव : संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट

नोटंबदी के बाद नकदी की कमी से उबरते हुए भारत की आर्थिक वृद्धि दर अगले साल करीब 8 फीसदी तक पहुंचने की संभावना है, जिसके पीछे अच्छी मौद्रिक नीतियों और सुधारों का योगदान है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत की विकास दर अगले साल 8 फीसदी संभव : संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट

भारत की विकास दर अगले साल 8 फीसदी संभव : संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट- प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. भारत की आर्थिक वृद्धि दर अगले साल करीब 8 फीसदी होगी
  2. संयुक्त राष्ट्र ने एक रिपोर्ट में मंगलवार को यह बात कही
  3. नोटंबदी के बाद नकदी की कमी से उबरते हुए देश यह आकंड़ा प्राप्त कर सकता है
नई दिल्ली:

नोटंबदी के बाद नकदी की कमी से उबरते हुए भारत की आर्थिक वृद्धि दर अगले साल करीब 8 फीसदी तक पहुंचने की संभावना है, जिसके पीछे अच्छी मौद्रिक नीतियों और सुधारों का योगदान है. संयुक्त राष्ट्र ने एक रिपोर्ट में मंगलवार को यह बात कही गई हैं.

संयुक्त राष्ट्र विश्व आर्थिक स्थिति और संभावना रिपोर्ट के मध्य-2017 अपडेट में इस वर्ष की शुरुआत में अनुमानित आंकड़ा 7.6 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.6 प्रतिशत कर दिया गया था,

टिप्पणियां

रिपोर्ट में कहा गया है, "नोटबंदी के कारण अस्थायी रुकावटों के बावजूद, भारत में आर्थिक स्थिति मजबूत है, राजकोषीय स्थिति अच्छी है और मौद्रिक नीतियों और महत्वपूर्ण घरेलू सुधारों का कार्यान्वयन जारी है,"


हालांकि, चालू वर्ष के लिए, आर्थिक और सामाजिक मामलों के संयुक्त राष्ट्र विभाग (यूएनडीईएसए) ने रिपोर्ट में वृद्धि दर में 0.4 प्रतिशत की कटौती के साथ 7.3 प्रतिशत कर दी है, जो कि जनवरी में 7.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था. (IANS न्यूज एजेंसी से इनपुट)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement