दो महीनों बाद खुला न्‍यूयॉर्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज, कोरोना वायरस वैक्सीन की खबरों के बीच 'बाजार' में दिखे सकारात्‍मक संकेत

लगभग दो महीनों बाद New York Stock Exchange की बिल्डिंग लॉकडाउन के बाद खुली है आखिरकार फिजिकल फ्लोर ट्रेडिंग शुरू हुई है और मार्केट में अच्छी ट्रेडिंग देखने को मिली है.

दो महीनों बाद खुला न्‍यूयॉर्क स्‍टॉक एक्‍सचेंज, कोरोना वायरस वैक्सीन की खबरों के बीच 'बाजार' में दिखे सकारात्‍मक संकेत

दो महीनों बाद न्‍यूयॉर्क स्‍‍‍‍टॉक एक्‍सचेंज की बिल्डिंग फिर खुली

खास बातें

  • NYSE पर दो महीनों बाद शुरू हुई फिजिकल ट्रेडिंग
  • DOW-JONES में 2.4% की बढ़त
  • S&P 500 में भी दिखा उछाल

वॉल स्ट्रीट (Wall Street) पर मंगलवार को खुशी की लहर देखने को मिली. दो महीनों बाद न्‍यूयॉर्क स्‍‍‍‍टॉक एक्‍सचेंज (New York Stock Exchange) की बिल्डिंग लॉकडाउन के बाद खुली आखिरकार फिजिकल फ्लोर ट्रेडिंग शुरू हुई है. ऐसे में कोरोनावायरस के लिए बन रही वैक्सीन पर आई सकारात्मक खबरों के बीच अच्छा ट्रेड देखने को मिला. 30 मिनट की ट्रेडिंग में ही डाउ जोंस इंडस्ट्रियल एवरेज (Dow Jones Industrial Average) 2.4 प्रतिशत की उछाल के साथ 25,038.94 पर पहुंच गया. वहीं ब्रॉड-बेस्ड S&P 500 में भी 1.7 फीसदी की बढ़त देखी गई और नैस्डैक कंपोजिट इंडेक्‍स (Nasdaq Composite Index) भी 1.2 फीसदी की बढ़त के साथ 9,434.99 के लेवल पर पहुंच गया.

बाजार विश्लेषकों (market analysts) का कहना है कि इस उछाल के पीछे  कोरोना वायरस वैक्‍सीनबना रही कुछ कंपनियों की ओर से आई कुछ घोषणाएं हो सकती हैं. ऐसी ही कंपनी Merck ने कहा कि वो प्राइवेट वैक्सीन कंपनी Themis का अधिग्रहण करेगी. कंपनी ने यह भी बताया कि वो दूसरी कंपनियों के साथ रिसर्च के लिए पार्टनरशिप भी कर सकती है. मार्च अंत से NYSE में फिजिकल फ्लोर ट्रेडिंग नहीं चल रही थी. मंगलवार को  न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्वोमो ने ओपनिंग बेल बजाकर ट्रेडिंग की शुरुआत की. क्वोमो ने मॉस्क पहन रखा था और फ्लोर पर मौजूद दूसरे ट्रेडर्स ने भी मॉस्‍क पहना था, वहीं हर किसी के बीच में प्लेक्सीग्लास लगाकर उचित दूरी बनाई गई थी.

Newsbeep

मार्च में न्यूयॉर्क में लगातार बढ़ते कोविड-19 के मामलों के बीच 23 मार्च को NYSE को बंद कर दिया गया था. अब यहां फिर से धीरे-धीरे फिजिकल फ्लोर ट्रेडिंग शुरू की जा रही है. ट्रेडर्स को मॉस्क पहनना अनिवार्य है. वहीं उन्हें अपना तापमान भी चेक कराना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करना होगा. हालांकि, चूंकि बहुत से ट्रांजैक्शन कंप्यूटर के जरिए हो जाते हैं- जिसके चलते मार्केट के चालू रहने के लिए ट्रेडर्स का फ्लोर पर मौजूद रहना जरूरी नहीं है- NYSE लीडर्स का कहना है कि फिजिकल ट्रेडिंग के जरिए Buy-Sell ऑर्डर में, खासकर आखिरी घंटों की ट्रेडिंग में मदद मिलती है, वहीं किसी नई कंपनी के फर्स्ट ट्रेड या फिर किसी कंपनी के IPO (Initial Public Offering) खुलने के दौरान भी फिजिकल ट्रेडिंग से मदद मिलती है.

वीडियो: कोरोनावायरस में कारगर दवा पर पांच कंपनियों के साथ करार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)