NDTV Khabar

रैनसमवेयर WannaCry के खतरे के चलते ऐहतियातन बंद रखने पड़े कुछ एटीएम

रैनसमवेयर ‘वानाक्राई’ के खतरे के मद्देनजर बैंकों ने आज पुराने सॉफ्टवेयर पर चलने वाले कुछ एटीएम को बंद रखा. रिजर्व बैंक ने बैंकों को निर्देश दिया है कि वे रैनसमवेयर पर सरकारी संगठन सीईआरटी-इन के निर्देशों का पालन करें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रैनसमवेयर WannaCry के खतरे के चलते ऐहतियातन बंद रखने पड़े कुछ एटीएम

रैनसमवेयर WannaCry के खतरे के चलते ऐहतियातन बंद रखने पड़े कुछ एटीएम - प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. रैनसमवेयर ने 150 से अधिक देशों में आईटी नेटवर्कों को प्रभावित किया है
  2. सीईआरटी-इन ने क्या करें और क्या न करें की सूची जारी की है
  3. पुराने सॉफ्टवेयर पर चलने वाले कुछ एटीएम को बंद रखा गया
नई दिल्ली:

रैनसमवेयर ‘वानाक्राई’ के खतरे के मद्देनजर बैंकों ने आज पुराने सॉफ्टवेयर पर चलने वाले कुछ एटीएम को बंद रखा. रिजर्व बैंक ने बैंकों को निर्देश दिया है कि वे रैनसमवेयर पर सरकारी संगठन सीईआरटी-इन के निर्देशों का पालन करें. रैनसमवेयर ने 150 से अधिक देशों में विभिन्न आईटी नेटवर्कों को प्रभावित किया है.

टिप्पणियां

इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम (सीईआरटी-इन) ने इस स्थिति में क्या करें और क्या न करें की सूची जारी की है. साथ ही यह भी सलाह दी है कि वैश्विक रैनसमवेयर हमले से नेटवर्क को किस तरीके से संरक्षित किया जाए. सूत्राों ने कहा कि ज्यादातर एटीएम बढ़िया तरीके से काम कर रहे हैं. कुछ में अपडेट माइक्रोसाफ्ट विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम संभवत: नहीं है.


सूत्रों ने कहा कि इस तरह के एटीएम पर हमले की संभावना बन सकती है इसलिए ऐहतियाती उपाय के तौर पर उन एटीएम को बंद रखा गया है. हालांकि इस बारे में रिजर्व बैंक ने आज शाम तक आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा था. देश में कुल 2.2 लाख एटीएम हैं। इसमें से कुछ पुराने विंडोज एक्सपी ऑपरेटिंग सिस्टम पर चल रहे हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement