NDTV Khabar

थोक महंगाई दर में देखी गई गिरावट, जून माह में 0.90 प्रतिशत, मई में यह 2.17 प्रतिशत थी

थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति में जून में तीव्र गिरावट देखी गई है और यह आठ महीने के निम्न स्तर 0.90% पर आ गई. इससे सब्जियों समेत खाद्य उत्पादों की कीमतें भी गिरी हैं.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
थोक महंगाई दर में देखी गई गिरावट, जून माह में 0.90 प्रतिशत, मई में यह 2.17 प्रतिशत थी

थोक महंगाई दर में देखी गई गिरावट (प्रतीकात्मक फोटो)

खास बातें

  1. थोक मूल्य कीमतों पर आधारित महंगाई दर में जून में गिरावट
  2. जून माह में 0.90 प्रतिशत रही यह महंगाई दर
  3. मई में यह 2.17 प्रतिशत थी
नई दिल्ली: थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति में जून में तीव्र गिरावट देखी गई है और यह आठ महीने के निम्न स्तर 0.90% पर आ गई. इससे सब्जियों समेत खाद्य उत्पादों की कीमतें भी गिरी हैं.

मई में यह 2.17% थी और जून 2016 में यह शून्य से 0.09% नीचे थी. सरकार के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार जून में खाद्य उत्पादों की कीमत सालाना आधार पर 3.47% संकुचित हुई हैं वहीं सब्जियों में महंगाई की दर शून्य से 21.16% नीचे रही है.

आलू में सबसे ज्यादा अपस्फीति 47.32%, दालों में 25.47% और प्याज में 9.47% देखी गई है. अनाजों की कीमत में 1.93% की वृद्धि जबकि अंडे, मांस और मछली जैसे प्रोटीनवर्द्धक उत्पादों की कीमतें 1.92% बढ़ी हैं. ईंधन और बिजली क्षेत्र में महंगाई की दर 5.28% दर्ज की गई है जो मई में 11.69% थी और विनिर्मित वस्तुएं 2.27% महंगी हुई हैं. उल्लेखनीय है कि डब्ल्यूपीआई की गणना 2011-12 आधार वर्ष के अनुरूप की जाती है. मई में इसे 2004-05 से बदलकर यह किया गया था.

वहीं, 12 जुलाई को आए खुदरा मुद्रास्फीति के आंकड़े भी गिरावट के रहे. सब्जियों, दालों और दुग्ध उत्पादों जैसी खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने के कारण खुदरा मुद्रास्फीति जून महीने में 1.54 प्रतिशत के ऐतिहासिक निचले स्तर पर आ गई. इससे भारतीय रिजर्व बैंक अगले महीने ब्याज दर में कटौती की सोच सकता है. मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमणियन ने संवाददाताओं से कहा कि 1.54 प्रतिशत का यह आंकड़ा ऐतिहासिक निचला स्तर है और यह व्यापक आर्थिक स्थिरता में मजबूती को दिखाता है.

पिछले माह टमाटर 80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गए थे. देखें इससे संबंधित नीचे दिया गया वीडियो


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement