NDTV Khabar

थोक महंगाई बढ़ी, खाने पीने की चीजों की कीमतों में सबसे ज्यादा इजाफा

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा आंकड़ों के मुताबिक, थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) नवंबर में बढ़कर 3.93 फीसदी पर पहुंच गई, जबकि अक्टूबर मं यह 3.59 फीसदी पर थी और साल 2016 के नवंबर में यह 1.82 फीसदी पर रही थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
थोक महंगाई बढ़ी, खाने पीने की चीजों की कीमतों में सबसे ज्यादा इजाफा

थोक महंगाई बढ़ी, खाने पीने की चीजों की कीमतों में सबसे ज्यादा इजाफा (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: खाद्य पदार्थो और ईधन की कीमतों में हुई तेज बढ़ोतरी से देश की थोक मुद्रास्फीति बढ़कर नवंबर में 3.93 फीसदी पर रही. आधिकारिक आंकड़ों से गुरुवार को यह जानकारी मिली. वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा आंकड़ों के मुताबिक, थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) नवंबर में बढ़कर 3.93 फीसदी पर पहुंच गई, जबकि अक्टूबर मं यह 3.59 फीसदी पर थी और साल 2016 के नवंबर में यह 1.82 फीसदी पर रही थी.

सब्जियों की कीमतें बढ़ने से खुदरा मुद्रास्फीति अक्टूबर में 7 महीने के उच्च स्तर पर पहुंची

अनुक्रमिक आधार पर, प्राथमिक वस्तुओं की कीमतों में 5.28 फीसदी की वृद्धि हुई है, जो अक्टूबर में 3.33 फीसदी थी. डब्ल्यूपीआई में प्राथमिक वस्तुओं का भार 22.62 फीसदी है. खाद्य पदार्थो की कीमतों में नवंबर में 6.06 फीसदी की वृद्धि रही, जबकि अक्टूबर में यह 4.30 फीसदी पर थी.

खाद्य पदार्थो के संदर्भ में, प्याज की महंगाई दर साल-दर-साल आधार पर बढ़कर 178.19 फीसदी, जबकि आलू की कीमत में (-) 40.73 फीसदी की गिरावट रही.

टिप्पणियां
VIDEO- गुजरात में महिला वोटरों के लिए महंगाई बड़ा मुद्दा

कुल मिलाकर सब्जियों की कीमतों में नवंबर में 59.80 फीसदी की वृद्धि रही, जबकि एक साल पहले समान माह में इनमें (-)17.31 फीसदी की गिरावट रही थी.

इनपुट- आईएएनएस


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement