NDTV Khabar

विप्रो ने मैसूर की लाइटिंग विनिर्माण इकाई बंद की, 84 लोग हुए बेरोजगार

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘इस संबंध में आवश्यकतानुसार हमने सरकार एवं अन्य संबंधित प्राधिकरणों को सूचित कर दिया है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विप्रो ने मैसूर की लाइटिंग विनिर्माण इकाई बंद की, 84 लोग हुए बेरोजगार

प्रतीकात्मक तस्वीर

बेंगलुरु: विप्रो कंज्यूमर केयर एंड लाइटिंग ने मैसूर स्थित अपनी लाइटिंग विनिर्माण इकाई बंद कर दी है. इसके पीछे अहम कारण सीएफएल उत्पादों की मांग में भारी कमी और एलईडी उत्पादों को लेकर रूझान बढ़ना है.

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘इस संबंध में आवश्यकतानुसार हमने सरकार एवं अन्य संबंधित प्राधिकरणों को सूचित कर दिया है. उन्हें इस निर्णय से दो महीने पहले ही अवगत करा दिया गया है और सभी नियामकीय जरूरतों का अनुपालन किया गया है.’’  कंपनी ने कहा कि उसने इस साल की शुरुआत में सभी 84 कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना की पेशकश की थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement