NDTV Khabar

भारत को भेजे जाने वाले पैसे में कमी आई लेकिन इस मामले में अब भी नंबर वन : विश्व बैंक (World Bank) रिपोर्ट

17 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत को भेजे जाने वाले पैसे में कमी आई लेकिन इस मामले में अब भी नंबर वन : विश्व बैंक (World Bank) रिपोर्ट

भारत को भेजे जाने वाले पैसे में कमी आई लेकिन इसमें अब भी नंबर वन : विश्व बैंक (World Bank) रिपोर्ट

वॉशिंगटन: विश्व बैंक की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, विदेशों में काम कर रहे भारतीयों द्वारा अपने घर यानी भारत भेजे जाने वाले पैसे (रेमिटेंस) में बीते साल 8.9 प्रतिशत की गिरावट देखी गई. हालांकि इस गिरावट के बावजूद भारत विदेशों से इस तरह की मनीऑर्डर राशि हासिल करने वाले देशों में पहले स्थान पर बना हुआ है.

विश्व बैंक की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, इसके अनुसार विकासशील देशों को भेजे जाने वाले विदेशी मनीऑर्डर में 2016 में लगातार दूसरे साल गिरावट आई. तीस साल में पहले ऐसा कभी नहीं देखा गया.

इस गिरावट के लिए मुख्य रूप से तेल कीमतों में गिरावट तथा पश्चिम एशिया के तेल उत्पादक देशों द्वारा कड़े वित्तीय अनुशासन अपनाए जाने को जिम्मेदार बताया जा रहा है. पश्चिम एशिया में भारतीय बड़ी संख्या में रहते हैं जो कि अपने घरों में नियमित रूप से पैसा भेजते हैं. इसके अनुसार बीते साल सबसे अधिक मनीऑर्डर पाने वाले देशों में भारत पहले स्थान पर बना रहा.

इस दौरान भारत को 62.7 अरब डॉलर की राशि भेजी गई जो कि 8.9 प्रतिशत की गिरावट दिखाती है. 2015 में यह राशि 68.9 अरब डॉलर रही थी. बैंक ने अपनी रपट में कहा है कि विकासशील देशों को आधिकारिक विदेशी मनीऑर्डर 2016 में 2.4 प्रतिशत घटकर 429 अरब डॉलर रह गया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement