NDTV Khabar

स्वच्छ कैंपस रैंकिंग में AKTU को मिला देश में पहला स्थान

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (AKTU) को स्वच्छ कैंपस रैंकिंग में देश में पहला स्थान मिला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्वच्छ कैंपस रैंकिंग में AKTU को मिला देश में पहला स्थान

AKTU को नॉन रेजिडेंशियल यूनिवर्सिटी की श्रेणी में स्वच्छ कैंपस रैंकिंग से नवाजा गया है.

नई दिल्ली:

स्वच्छ कैंपस रैकिंग 2019 ऑफ हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूशन में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (AKTU) ने देश में पहला स्थान हासिल किया है. कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक ने बताया कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देशभर के उच्च शिक्षण संस्थानों की स्वच्छ कैंपस रैकिंग 2019 में एकेटीयू को पहला स्थान दिया है. नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में विश्वविद्यालय की नोएडा शाखा के प्रो. वीरेंद्र पाठक ने विश्वविद्यालय की तरफ से इसका प्रमाण पत्र स्वीकार किया.

उन्होंने बताया कि एकेटीयू को नॉन रेजिडेंशियल यूनिवर्सिटी की श्रेणी में स्वच्छ कैंपस रैंकिंग से नवाजा गया है. उन्होंने इसे विश्वविद्यालय के लिए बड़ी उपलब्धि बताया है. पाठक ने बताया कि स्वच्छ कैंपस रैंकिंग-2019 के लिए भारत सरकार के मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय एवं एआईसीटीई द्वारा गठित टीम द्वारा विश्वविद्यालय परिसर का निरीक्षण किया गया था. तीन सदस्यीय टीम ने अगस्त में विश्वविद्यालय का दौरा किया और मानकों के आधार पर गहन निरीक्षण किया था.

उन्होंने बताया कि विवि एक लाख पच्चीस हजार आठ सौ सत्तावन वर्ग मीटर यानी 30 एकड़ में फैला हुआ है. इसमें मुख्य रूप से तीन भवन हैं, जिनमें प्रशासनिक, अकादमिक और डिजिटल लाइब्रेरी भवन शामिल हैं. परिसर के अंदर साफ-सफाई और हरियाली है. प्रो. पाठक ने कहा सभी के सहयोग से पहले ही दिन से हम क्लीन व ग्रीन कैंपस के लिए काम कर रहे हैं, जिसके कारण यह सफलता व सम्मान हमें मिला है.

कुलपति ने बताया कि विशविद्यालय में डिजिटल तकनीक के बेहतर प्रयोग व सफाई को लेकर बेस्ट प्रैक्टिसेज ने उन्हें यह सम्मान दिलाया है. टीम ने परिसर में साफ-सफाई के साथ कूड़े के कम उत्पादन, जलसंरक्षण आदि अन्य चीजों को भी जांचा-परखा.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. Education News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


Advertisement