NDTV Khabar

चाहिए जल्दी नौकरी तो RESUME बनाते समय रखें इन 5 बातों का खयाल

RESUME बनाते समय हमेशा कंपनी की जरूरत के बारे मे पता जरूर लगा लें. कंपनी की जरूरतों के मुताबिक ही अपने रिजूम में बदलाव करें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चाहिए जल्दी नौकरी तो RESUME बनाते समय रखें इन 5 बातों का खयाल

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. रिजूम ही दिलाती है कई बार आपको बेहतर नौकरी
  2. कंपनी की जरूरत के हिसाब से रिजूम अपडेट होना जरूरी
  3. रिजूम तैयार करते समय भाषा का भी रखें खयाल
नई दिल्ली: RESUME किसी के लिए भी नौकरी पाने की पहली सीढ़ी होती है. आपको अगले चरण के लिए चुना जाए या नहीं इसका निर्णय भी कई बार रिजूम के आधार पर ही होता है. ऐसे में आपको रिजूम में शब्दों के चयन और दी जाने वाली जानकारी को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है. जानकारों के एक अनुसार एक बेहतर रिजूम किसी के नौकरी पाने की संभावना को काफी बढ़ा देता है. लिहाजा रिजूम तैयार करते समय कई अहम बातों का ध्यान रखना जरूरी है. आज हम आपको ऐसे ही कुछ बातें बताने जा रहे हैं जिसे ध्यान में रखकर आप एक प्रभावशाली रिजूम तैयार कर सकते हैं...

यह भी पढ़ें: बोर्ड परीक्षा से पहले छात्रों से 'परीक्षा पर चर्चा' करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

पहले समझें कैसे लोगों की है जरूरत
रिजूम बनाते समय आपको यह ध्यान में रखना चाहिए कि आप किस कंपनी के लिए रिजूम बना रहे हैं. उस कंपनी की जरूरत क्या है. वह किन पदों के लिए भर्तियां कर रहा है. और क्या आपने संबंधित कंपनी की जरूरतों के मुताबिक अपना रिजूम अपडेट किया है या नहीं. ऐसा करने से आप एक बेहतर रिजूम बना पाएंगे. और इस वजह से आपके प्रति संबंधित कंपनी व वहां के एचआर का रुझान बढ़ेगा.
 
कंपनी से जुड़ी जानकारी पहले जुटाएं
आपको चाहिए कि आप जिस भी नौकरी के आप आवेदन करना चाह रहे हैं, उससे जुड़ी कुछ अहम जानकारी पहले जुटा लें. ऐसा करने के साथ आप अपने रिजूम को बेहतर ढंग से प्रस्तुत कर पाएंगे. अगर आपको जरूरी लगे तो आप अपने काम को उस कंपनी के काम के अनुसार पेश करें, ताकि जब वहां का एचआर या कंपनी के बड़े अधिकारी देखें तो वह पहली ही नजर में उसे सलेक्ट कर लें.

यह भी पढ़ें: 8 जुलाई को होगा UGC नेट का एग्‍जाम, जेआरएफ की आयु सीमा बढ़ी

टिप्पणियां
दूसरों के सीवी को जरूर देखें
एक बेहतर सीवी बनाने के लिए जरूरी है कि आप अपने सहयोगियों के सीवी को भी देखें. ऐसा करने से आपको अंदाजा लग जाएगा कि आप अपने सीवी में और किस तरह के बदलाव कर सकते हैं. आप चाहें तो अपने प्रोफेसर और ऑफिस के साथियों की भी मदद ले सकते हैं.
  
लिखावट के तरीके पर दें ध्यान 
रिजूम बनाते समय आपको हमेशा अपनी लिखावट पर ध्यान देना चाहिए. लिखावट से मतलब यहां फांट साइज से है. शब्दों का फांट साइज बड़ा होने से रिजूम में लिखे चीजों को पढ़ने में आसानी होती है. खासतौर पर आपको उन जानकारियों को बड़े फान्ट या बोल्ड फॉर्म में लिखना चाहिए जो आप पहले  बताना चाहते हैं. मसलन, अपनी करेंट जॉब और वर्किंग बैकग्राउंड की जानकारी, आप जिस भी कंपनी में जो भी काम कर रहे हैं उसका विवरण और खास तौर पर आपने कंपनी में रहते हुए कौन सा काम बेहतर किया है. इस तरह की हर जानकारी को आप बड़े फांट में लिख सकते हैं.
 
VIDEO: परीक्षा के तनाव को दूर करने के लिए पीएम ने लांच की किताब


कीवर्ड्स का करें इस्तेमाल
इन दिनों बहुत से रिकू्रटर रिजूम शॉर्टलिस्ट करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का प्रयोग करते हैं. उनके विशेष स्कैनर रेज्यूमे में प्रयोग हुए कीवर्ड्स की पहचान कर उन्हें देखते हैं. इसलिए ध्यान रहे कि नौकरी से संबंधित सभी कीवर्ड्स का समझदारी से इस्तेमाल किया जाए, जिससे आपके लिए संभावनाएं अधिक हों.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement