Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इंटरव्यू: बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा की टॉपर सिया श्रुति ने बताया अपनी सफलता का मंत्र

BPSC Judicial Service Exam: सिया श्रुति पटना की रहने वाली हैं और उन्होंने 2015 में चाणक्य राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय से एलएलबी की पढ़ाई पूरी की थी.

इंटरव्यू: बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा की टॉपर सिया श्रुति ने बताया अपनी सफलता का मंत्र

बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा की टॉपर सिया श्रुति

खास बातें

  • बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा की टॉपर हैं सिया श्रुति.
  • श्रुति पटना की रहने वाली हैं.
  • श्रुति के पिता पेशे से वकील हैं.
नई दिल्‍ली:

बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा (BPSC Judicial Service Exam) के नतीजे बेहद खास रहे क्योंकि इस बार एक महिला ने पहला स्थान हासिल किया. इस साल पटना की रहने वाली सिया श्रुति ने न्यायिक सेवा परीक्षा में टॉप किया. श्रुति ने 2015 में चाणक्य राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय से एलएलबी की पढ़ाई पूरी की और फिर मुंबई में जॉब करने लगी. लेकिन कुछ बड़ा कर दिखाने की ज़िद के चलते उन्होंने नौकरी छोड़ बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू की. श्रुति के पिता पेशे से वकील हैं, ऐसे में वह बचपन से ही अपने पिता से काफी प्रभावित हुई और उन्होंने न्यायिक सेवा से जुड़ने का फैसला किया. श्रुति ने अपनी सफलता पर NDTV से खुलकर बात की, साथ ही उन्होंने न्यायिक सेवा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को टिप्स भी दिए.

सवाल: आपको उम्मीद थी कि आपको पहली रैंक मिल सकती है?
जवाब:
एग्जाम और इंटरव्यू तो दे दिया था और दिमाग में था कि सेलेक्शन तो हो जाना चाहिए. लेकिन मैने ये नहीं सोचा था कि मुझे पहली रैंक हासिल होगी हालांकि ये उम्मीद थी कि रैंक 30-40 के बीच में आ जाएगी.

सवाल: तैयारी कैसे की और कितना समय लगा?
जवाब:
ज्यूडिशियल सर्विसेज परीक्षा का सिलेबस काफी बड़ा होता है, 6 से 8 महीने तो मुझे सिर्फ लॉ का सिलेबस पूरा करने में लगे. मैने 2018 की शुरुआत में तैयारी करना शुरू किया और नवंबर 2018 में प्री का एग्जाम दिया. मैने मेन की तैयारी पहले शुरू की. अधिकतर लोग पहले प्री की तैयारी करते हैं और फिर मेन की. लेकिन मैने अलग तरीका अपनाया. मेरा मानना है कि अगर आपका मेन का सिलेबस कम्प्लीट है तो प्री में उसी से कुछ क्वेश्चन आ जाते हैं. प्री की तैयारी मैने पेपर के 1 महीने पहले शुरू की थी.

rs16umu8


सवाल: तैयारी के लिए खुद पर निर्भर थीं या कोचिंग की मदद ली?
जवाब: 
मैने तैयारी के लिए कोचिंग नहीं ली. मैं मुंबई में एक लॉ फर्म में जॉब कर रही थी. जॉब छोड़ने के बाद मैने ज्यूडिशियल सर्विसेज के लिए तैयारी करने की सोची. परीक्षा की तैयारी के लिए पटना में मेरे मेंटर किशोर प्रसाद ने मेरी हेल्प की. मैने 3 साल जॉब की और उसका अनुभव भी परीक्षा की तैयारी में मेरे काम आया.

सवाल: सोशल मीडिया पर न होने से क्या प्रभाव पड़ा?
जवाब: मैने परीक्षा की तैयारी से पहले फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया अकाउंट डिलीट कर दिया. कहीं न कहीं सोशल मीडिया पर न होने के चलते आप अपनी तैयारी पर और भी फोकस कर पाते हैं. फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर समय बिताने की जगह मैं यूट्यूब पर जाकर तैयारी के लिए वीडियो देखती थी.

BPSC बिहार न्यायिक सेवा परीक्षा के लिए टॉपर के टिप्स
- लॉ में अपने कॉन्सेप्ट्स को क्लियर रखें और पिछले साल के क्वेश्चन पेपर को देख कर ये तय करें कि कौन से सवाल ज्यादा जरूरी हैं और कौन से नहीं और उस तरह से उन पर समय दें.
- प्री के लिए बिहार और अन्य राज्यों की न्यायिक सेवा परीक्षा की किताबें आती हैं उनमें दिए गए MCQ को सॉल्व करें. 
- GK/GS के लिए किताब से रोजाना 1 पेज पढ़ें.
- एक रूटीन फॉलों करें जिसमें आप कंफर्टेबल हों. 
- इंटरनेट से जितना ज्यादा मदद ले सकते हैं लें. 
- ऐसे लोगों से दूर रहे जो आपको डिमोटिवेट करते हों.
- स्ट्रेस से दूर रहने के लिए आप स्ट्रेस बस्टर की मदद लें वो कुछ भी हो सकता है जैसे कोई गाना या और कुछ.

अन्य खबरें
Exclusive: UPSC टॉपर कनिष्क कटारिया ने अपनी सफलता पर NDTV से की खुलकर बात
Exclusive: UPSC में देश भर में 5वीं रैंक और लड़कियों में अव्वल रहने वाली सृष्टि ने बताया अपनी सफलता का मंत्र