Bihar Board 10th Topper: बिहार बोर्ड 10वीं परीक्षा के टॉपर हिमांशु राज बनना चाहते हैं सॉफ्टवेयर इंजीनियर, पिता करते हैं सब्जी बेचने का काम

Bihar Board 10th Topper: बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा (BSEB Class 10th Result) में टॉप करने वाले हिमांशु राज बड़े होकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हैं.

Bihar Board 10th Topper: बिहार बोर्ड 10वीं परीक्षा के टॉपर हिमांशु राज बनना चाहते हैं सॉफ्टवेयर इंजीनियर, पिता करते हैं सब्जी बेचने का काम

Bihar Board 10th Topper: हिमांशु राज सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हैं.

नई दिल्ली:

Bihar Board 10th Topper: बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा (BSEB Class 10th Result) में इस साल रोहतास जिले के हिमांशु राज ने टॉप किया है. हिमांशु के पिता सब्जी बेचने की काम करते हैं. हिमांशु ने बिहार बोर्ड की 10वीं परीक्षा में टॉप (Bihar Board 10th Topper Himanshu Raj) करके तमाम स्टूडेंट्स के लिए  मिसाल कायम की है. हिमांशु रोहतास जिले के जनता हाई स्कूल में पढ़ते हैं. बिहार में 10वीं बोर्ड की परीक्षा में हिमांशु राज ने 96.20 फीसदी अंक हासिल किए हैं और पूरे राज्य में टॉप किया है. उन्होंने 500 में से 481 अंक प्राप्त किए हैं. ऐसे में पूरे रोहतास जिले में खुशी का माहौल है. 

NDTV को दिए इंटरव्यू में हिमांशु ने कहा है कि वे बड़े होकर एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हैं. हिमांशु ने यह भी कहा कि वे अपने रिजल्ट से काफी खुश हैं और जिन लोगों ने भी उनके कामयाब होने में मदद की है वे सबका शुक्रिया अदा करना चाहते हैं. 

वहीं, हिमांशु के पिता सुभाष राज ने कहा कि कल तक वह काफी चिंतित थे, क्योंकि उनके बेटे के पैर में चोट लग गई थी, लेकिन बोर्ड परीक्षा में हिमांशु के टॉप करने की खबर ने उनकी चिंताओं को भुला दिया है. 

आपको बता दें कि हिमांशु के पिता सब्जी बेचने का काम करते हैं. हिमांशु भी पढ़ाई करने के बाद पिता का इस काम में हाथ बटाते हैं. हिमांशु के राज्य में टॉप करने की खबर मिलते ही पूरे गांव में खुशी की लहर दौड़ गई. परिवार के लोगों ने हिमांशु को मिठाई खिलाकर उसका मुंह मीठा कराया. हिमांशु ने बताया कि वह अपनी आगे की पढ़ाई अच्छे से मन लगाकर करना चाहते हैं. 

Newsbeep

हिमांशु के घर में बधाई देने आए लोगों का तांता लगा हुआ है. हिमांशु के माता-पिता के अलावा जनता हाई स्कूल, रोहतास के प्रधानाध्यापक उपेंद्र नारायण सिंह भी उन्‍हें बधाई देने उनके घर पहुंचे. उनके पारिवारिक मित्र सुनील कुमार ने बताया कि इस समय घर में उसी तरह से जश्न मनाया जा रहा है, जिस तरह से कोई त्योहार मनाया जाता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यहां आपको बता दें, 480 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर समस्तीपुर के दुर्गेश कुमार रहे हैं. तीसरे स्थान पर तीन स्टूडेंट्स रहे हैं- भोजपुर के शुभम कुमार, औरंगाबाद के राजवीर और अरवल की जूली कुमारी. इन तीनों के ही 478-478 अंक हैं. चौथे स्थान पर तीन स्टूडेंट्स हैं- सन्नू कुमार, मुन्ना कुमार और नवनीत कुमार हैं. इन तीनों के 477-477 अंक है. पांचवें स्थान पर रंजीत कुमार गुप्ता हैं, जिनके 476 अंक हैं.