NDTV Khabar

CBSE Topper 2019: 12वीं में हंसिका शुक्ला और करिश्मा अरोड़ा ने किया टॉप, दोनों को मिले 499 मार्क्स

CBSE Class 12th Topper 2019: इस बार एक नहीं बल्कि दो लड़कियां टॉपर रही हैं. पहली हंसिका शुक्ला (Hansika Shukla) ये डीएसपी मेरठ रोड गाजियाबाद से हैं और दूसरी करिश्मा अरोड़ा (Karishma Arora), जो कि एसडी पब्लिक स्कूल मुजफ्फरनगर (यूपी) दोनों को 500 में से 499 मार्क्स मिले हैं. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CBSE Topper 2019: 12वीं में हंसिका शुक्ला और करिश्मा अरोड़ा ने किया टॉप, दोनों को मिले 499 मार्क्स

CBSE results 2019: सीबीएसई 12वीं की टॉपर हंसिका शुक्ला की फोटो

नई दिल्ली:

CBSE Topper 2019: सीबीएसई 12वीं का रिज़ल्ट आ चुका है. इस बार लड़कियों ने बाजी मारी है. लड़कियों के पासिंग परसेंटेज 88.7 फीसदी रहे जबकि लड़कों का 79.9 फीसदी रहा. केंद्रीय विद्यालय पहले स्थान पर, इसका 98.54 पास परसेंटेज है. बता दें, इस बार एक नहीं बल्कि दो लड़कियां टॉपर रही हैं. पहली हंसिका शुक्ला (Hansika Shukla) ये डीएसपी मेरठ रोड गाजियाबाद से हैं और दूसरी करिश्मा अरोड़ा (Karishma Arora), जो कि एसडी पब्लिक स्कूल मुजफ्फरनगर (यूपी) दोनों को 500 में से 499 मार्क्स मिले हैं. 

CBSE Class 12th Results 2019: वेबसाइट, SMS और डायरेक्ट लिंक से ऐसे चेक करें 12वीं बोर्ड का रिज़ल्ट

वहीं, दूसरे नंबर पर भी तीन लड़कियों ने बाजी मारी है. तीनों को 500 में से 498 अंक मिले हैं. इन तीनों के नाम हैं...
गौरांगी चावला - निर्मल आश्रम दीप माला पब्लिक स्कूल ऋषिकेश
ऐश्वर्या -  केंद्रीय विद्यालय राय बरेली
भव्या - बीआरेसके इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल हरियाणा

इसके बाद तीसरे नंबर पर 18 बच्चे हैं, जिन्हें 500 में से 497 मिले हैं. आपको बता दें, इन 18 में से 11 लड़कियां हैं. 


हंसिका शुक्ला को खुद केंद्रीय संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बधाई दी...  


इस बार कुल 83.4 फीसदी बच्‍चे पास होने में सफल रहे. पिछली बार की तरह इस बार भी लड़कियों ने बाजी मारी है. सीबीएसई के मुताबिक लड़कों की तुलना में 9 फीसदी अधिक लड़कियां पास हुईं हैं. सीबीएसई 12वीं बोर्ड में 88.70 फीसदी लड़कियां पास होने में सफल रहीं, जबकि लड़कों का पासिंग पर्सेंटेज 79.4 फीसदी रहा. 

हर बार की तरह इस बार भी केंद्रीय विद्यालयों का प्रदर्शन शानदार रहा. सीबीएसई के मुताबिक केंद्रीय स्‍कूलों का पासिंग पपर्संटेज 98.4 फीसदी रहा. वहीं, तिब्‍बती स्‍कूलों के 96 फीसदी बच्‍चे और सरकरी स्‍कूलों के 88.49 फीसदी बच्‍चे सफल रहे. उधर, 82.59 फीसदी पासिंग पर्सेंटेज के साथ प्राइवेट स्‍कूलों का प्रदर्शन सबसे खराब रहा.

केंद्रीय संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने आगे ट्वीट कर कहा...

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education या CBSE) भारत की स्कूली शिक्षा का एक प्रमुख बोर्ड है. देश एवं विदेश के बहुत से निजी विद्यालय इससे सम्बद्ध हैं. केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (www.cbse.nic.in) से तकरीबन 10 हजार विद्यालय संबद्ध है. 

टिप्पणियां

CBSE बोर्ड पहली कक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक के लिये पाठ्यक्रम तैयार करता है एवं वर्ष में दो मुख्य परीक्षाएं संचालित करता है - 10वीं कक्षा के लिये अखिल भारतीय सेकेण्डरी स्कूल परीक्षा (AISSE) एवं 12वीं कक्षा के लिये अखिल भारतीय सीनियर स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (AISSCE). इसके अतिरिक्त अखिल भारतीय इंजिनीयरिंग प्रवेश परीक्षा (AIEEE) तथा अखिल भारतीय प्री-मेडिकल परीक्षा (AIPMT) का भी संचालन करता है.

सीबीएसई बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय अजमेर, चेन्नई, इलाहाबाद, गुवाहाटी, पंचकुला और दिल्ली में भी स्थित हैं. देश के बाहर स्थित विद्यालय, क्षेत्रीय कार्यालय दिल्ली के अंतर्गत आते हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement