NDTV Khabar

CTET Results 2016 : इंतजार खत्म, CBSE ने घोषित किए केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के नतीजे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CTET Results 2016 : इंतजार खत्म, CBSE ने घोषित किए केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के नतीजे
नई दिल्ली:

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ( सीबीएसई ) ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा ( Central Teacher Eligibility Test - CTET - सीटीईटी  ) फरवरी 2016 परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है। उम्मीदवार अपना परीक्षा परिणाम  cbseresults.nic.in पर लॉग इन कर सकते हैं। 

यह परीक्षा देश के विभिन्न केंद्रों पर 21 फरवरी, 2016 को आयोजित हुई थी। हरियाणा में सीबीएसई का सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट ( सीटीईटी ) एग्जाम 8 मई को हुआ था। आपको बता दें कि हरियाणा में जाट आरक्षण आंदोलन के कारण एग्जाम की डेट को आगे बढ़ा दिया गया था। 

सीटीईटी में दो पेपर होते हैं- पेपर 1 और पेपर 2। पेपर नं. 1 उन उम्मीदवारों को देना होता है जो कक्षा 1 से कक्षा 5 तक पढ़ाने के इच्छुक हैं। और पेपर नं 2 उन उम्मीदवारों के लिए होता है जो कि कक्षा 6 से कक्षा 8 के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं।

ये परीक्षा पास करने के बाद इन स्कूलों में मिल सकेगी नौकरी
- सीटीईटी केन्द्रीय सरकार के विद्यालयों (केन्द्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय व तिब्बती स्कूलों आदि) तथा संघ राज्य क्षेत्र चंडीगढ़, अंडमान और निकोबार द्विप समूह, लक्षद्वीप, दमन-दीव, दादरा नगर हवेली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन विद्यालयों के लिए लागू होगा। 


- गैर सहायता प्राप्त प्राइवेट स्कूल, जो सीटीईटी के विकल्प पर विचार करना चाहते हैं, के लिए भी सीटीईटी लागू होगा।

आपको बता दें कि केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सीटीईटी परीक्षा आयोजित करने की जिम्मेदारी सीबीएसई को सौंप रखी है। 

टीईटी किसी भी व्यक्ति के लिए टीचर के रूप में नियुक्त होने के लिए न्यूनतम योग्यता है। 

लेकिन यह भी ध्यान रखा जाए कि सीटीईटी क्वालिफाई करना किसी भी व्यक्ति को भर्ती/रोजगार के लिए अधिकार नहीं देता क्योंकि यह नियुक्ति के लिए केवल एक पात्रता मानदंड है। 

कुछ दिनों पहले सीबीएसई ने CTET सितंबर 2016 परीक्षा की तिथि भी घोषित कर दी। यह परीक्षा 18 सितंबर, 2016 को होगी।

सीटीईटी में बैठने के लिए निम्नलिखित व्यक्ति पात्र हैं-

1. कक्षा I-V के लिए शिक्षक बनने के लिए न्यूनतम योग्यताएं: प्राथमिक स्तर

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण ।
या
सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 45% अंकों के साथ और एनसीटीई (मान्यता मानदंड एवं प्रक्रियाएं), रेगुलेशन 2002 के अनुसार प्रारंभिक शिक्षा  (Elementary Education) में दो वर्षीय डिप्लोमा के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण ।
या    
सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और 4-वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा में स्नातक (B.El.Ed) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या 
सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और शिक्षा में 2-वर्षीय डिप्लोमा (विशेष शिक्षा) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या 
स्नातक और प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले या उत्तीर्ण।

2. कक्षा VI-VIII के लिए शिक्षक बनने के लिए न्यूनतम योग्यताएं: प्रारंभिक स्तर

टिप्पणियां

स्नातक ओैर प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या
स्नातक कम से कम 50% अंकों के साथ और एक वर्षीय शिक्षा में स्नातक (बीएड) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या
स्नातक कम से कम 45%अंकों के साथ और इस संबंध में समय-समय पर जारी एनसीटीई (मान्यता मानदंड और प्रक्रियाएं) रेगुलेशन्स के अनुसार एक वर्षीय शिक्षा में स्नातक (बीएड) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या
सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ और चार वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा में स्नातक (B.El.Ed) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या
सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ और चार वर्षीय बीए/बीएससी.एड अथवा बीए.एड/बीएससी.एड के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।
या
स्नातक कम से कम 50% अंकों के साथ और एक वर्षीय बीएड (विशेष शिक्षा) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

- अ.जा./अनु.ज.जा/अ.पि.व./विशेष रूप से विकलांग जैसी आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को पात्रता हेतु न्यूनतम शैक्षिक अर्हता में 5% अंकों की छूट की अनुमति होगी ।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement