NDTV Khabar

सीबीएसई शिक्षा क्षेत्र में मौजूद माफियाओं से निपटने में लगा है : वरिष्ठ अधिकारी

बातचीत के दौरान स्वरूप ने सीबीएसई प्रमुख अनिता करवाल का बचाव करते हुए कहा कि प्रश्नपत्र लीक होने के बाद से ही जो कड़ी आलोचना झेल रहा हो. हर आदमी उनके पीछे पीछे बगैर तथ्यों को जाने पड़ा हुआ है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीबीएसई शिक्षा क्षेत्र में मौजूद माफियाओं से निपटने में लगा है : वरिष्ठ अधिकारी

अनिल स्वरूप की फाइल फोटो

खास बातें

  1. स्वरूप ने कहा शिक्षा में क्षेत्र में माफिया राज ज्यादा
  2. उन्होंने माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही
  3. पेपर लीग मामले के आरोपियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
नई दिल्ली:

सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा के प्रश्नपत्र लीक होने के बाद से ही लाखों छात्रों में सीबीएसई बोर्ड के प्रति नाराजगी है. पीड़ित छात्र सिस्टम पर भी सवाल खड़े करते रहे हैं. इन सब के बीच अब एक वरिष्ठ अधिकारी ने शिक्षा के क्षेत्र में माफियाओं की जड़े गहरी होने की बात कहकर सनसनी मचा दी है. अधिकारी ने कहा कि एजुकेशन डिपार्टमेंट में माफियाओं की जड़ें कोल माइनिंग इंडस्ट्री से भी ज्यादा गहरी हैं. यूनियन एजुकेशन सेक्रेटरी अनिल स्वरूप, जो पहले कोल सेक्रेटरी भी थे,  ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि कोयला खदानों में खन्न का काम अंडरग्राउंड होता है और माफिया ऊपर से काम करते हैं. लेकिन शिक्षा क्षेत्र में माफिया ही अंडरग्राउंड हैं. हम फिलहाल इनसे निपटने में लगे हैं.

यह भी पढ़ें: IIT JEE Main : परीक्षा संपन्न, साढ़े 10 लाख परीक्षार्थी हुए शामिल


बातचीत के दौरान स्वरूप ने सीबीएसई प्रमुख अनिता करवाल का बचाव करते हुए कहा कि प्रश्नपत्र लीक होने के बाद से ही जो कड़ी आलोचना झेल रहा हो. हर आदमी उनके पीछे पीछे बगैर तथ्यों को जाने पड़ा हुआ है. मामले की शुरुआती जांच के आधार पर यह कहीं से भी नहीं लगता है कि उनका इस पूरी घटना में कही से भी कोई भागीदारी रही है. पेपर लीक मामले में स्वरूप ने किसी सीबीएसई अधिकारी के शामिल होने से भी इनकार किया .

टिप्पणियां

VIDEO: अनिल स्वरूप ने एनडीटीवी से विशेष बातचीत.

उन्होंने कहा कि अभी तक किसी के खिलाफ कोई शिकायत नहीं मिला है. जिसके खिलाफ शिकायत मिलेगी उसे छोड़ा नहीं जाएगा. गौरतलब है कि 12वीं बोर्ड परीक्षा का पेपर लीक होने के आरोप ने सीबीएसई अधिकारी को सस्पेंड करने के साथ ही तीन लोगों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement