CBSE NEET 2017 परीक्षा खत्म, अब आंसर-की का इंतजार, 8 जून को आएंगे नतीजे

सीबीएसई ने देश भर के करीब 104 शहरों में रविवार को नीट (NEET) अंडरग्रेजुएट परीक्षा आयोजित की. नीट 2016 के 8,02,594 पंजीकृत उम्मीदवारों की अपेक्षा इस बार यानी 2017 में 41.42% ज्यादा उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. नीट 2017 के लिए 11,35,104 उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया. 11 लाख उम्मीदवारों की परीक्षा के लिए विश्वसनीयता, इंफ्रास्ट्रक्चर आदि के आधार पर देश भर में 2200 संस्थानों को परीक्षा केंद्र बनाया गया. अब परीक्षा खत्म होने के बाद छात्रों को इसकी आंसर-की का इंतजार है. 

CBSE NEET 2017 परीक्षा खत्म, अब आंसर-की का इंतजार, 8 जून को आएंगे नतीजे

सीबीएसई ने देश भर के करीब 104 शहरों में रविवार को नीट (NEET) अंडरग्रेजुएट परीक्षा आयोजित की. नीट 2016 के 8,02,594 पंजीकृत उम्मीदवारों की अपेक्षा इस बार यानी 2017 में 41.42% ज्यादा उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. नीट 2017 के लिए 11,35,104 उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया. 11 लाख उम्मीदवारों की परीक्षा के लिए विश्वसनीयता, इंफ्रास्ट्रक्चर आदि के आधार पर देश भर में 2200 संस्थानों को परीक्षा केंद्र बनाया गया. अब परीक्षा खत्म होने के बाद छात्रों को इसकी आंसर-की का इंतजार है. 

देश भर के मेडिकल, डेंटल, आयुष और वेटरिनेरी कॉलेजों में एडमिशन के लिए नीट परीक्षा का आयोजन किया जाता है. 

नीट में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी से जुड़े कुल 180 ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे गए. टेस्ट शुरू होने से 15 मिनट पहले सभी परीक्षार्थियों को सील लगी टेस्ट बुकलेट वितरित की गई. सील लगी टेस्ट बुकलेट के भीतर आंसर शीट्स थी. 

अब सीबीएसई जल्द ही नीट 2017 की आंसर-की जारी करेगी. छात्रों को भी इसका बेसब्री से इंतजार है. इससे वह अपने प्रदर्शन का सही-सही आकलन कर पाएंगे. किसी प्रश्न के उत्तर को लेकर चुनौती देने का भी मौका उन्हें दिया जाएगा. सीबीएसई ने आंसर-की जारी करने की कोई तिथि निर्धारित नहीं की है. छात्र इसके लिए लगातार सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट चेक करते रहें.  छात्रों को सवाल पर आपत्‍ति दर्ज कराने के लिए प्रति सवाल 1000 रुपये की फीस जमा करानी होगी. शुल्‍क का भुगतान ऑनलाइन किया जा सकता है. हालांकि अगर छात्रों की आपत्‍ति अगर सही पाई गई तो उनके पैसे उन्‍हें वापस कर दिए जाएंगे.

सीबीएसई ने कहा था कि इस साल पंजीकृत अभ्यर्थियों की संख्या को देखते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने परीक्षा आयोजन वाले पहले वाले शहरों में 23 नए शहरों को जोड़ने का निर्णय लिया. नए शहरों में से चार-चार कर्नाटक व महराष्ट्र से, तीन-तीन गुजरात व तमिलनाडु से, दो-दो आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल तथा केरल से और एक-एक पंजाब, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश से हैं.

करियर की और खबरों के लिए क्लिक करें.
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com