NDTV Khabar

सीबीएसई ने कहा- उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित ढंग से बोर्ड मुख्यालय पहुंचाया जाए

बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि विशेष मामले में उत्तर पुस्तिकाओं की गोपनीयता के साथ समझौता नहीं किया गया है और परीक्षा की शुचिता को बनाए रखा गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीबीएसई ने कहा- उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित ढंग से बोर्ड मुख्यालय पहुंचाया जाए

सीबीएसई फाइल फोटो

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड( सीबीएसई) ने परीक्षा केन्द्रों को उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित ढंग से उसके मुख्यालय पर पहुंचाने का निर्देश दिया है. गौरतलब है  कि राजधानी में एक निजी स्कूल के एक अधिकारी को कक्षा 12 वीं के रसायन विज्ञान परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं को दिल्ली मेट्रो में ले जाते हुए पाया गया था. हालांकि बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि विशेष मामले में उत्तर पुस्तिकाओं की गोपनीयता के साथ समझौता नहीं किया गया है और परीक्षा की शुचिता को बनाए रखा गया है. सीबीएसई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बोर्ड ने परीक्षा केन्द्रों के अधीक्षकों को विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिनमें उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित ढंग से पहुंचाया जाना भी शामिल हैं. उन्हें व्यक्तिगत तौर पर यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि इस तरह की घटनाओं को दोहराया न जाए.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: NEET 2018 परीक्षा के लिए बढ़ाई गई आवेदन की अंतिम तिथि, जानिए कब तक होंगे रजिस्ट्रेशन

ध्यान हो कि तरुण नारंग (वकील) ने मेट्रो में उत्तर पुस्तिकाओं के साथ निजी स्कूल के एक कर्मचारी को देखा था. इसके बाद उन्होंने सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक को शिकायत की थी. नारंग ने अपने शिकायती में कहा था कि मैं अपराह्न लगभग तीन बजे द्वारका कोर्ट मेट्रो स्टेशन से जनकपुरी जा रहा था. मैंने एक व्यक्ति को कक्षा12 वीं के रसायन विज्ञान विषय की परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं को एक सीलबंद पार्सल में ले जाते हुए देखा. जब मैंने उनसे पूछा, तो उन्होंने कहा कि उसे परीक्षा अधीक्षक ने उत्तर पुस्तिकाओं को प्रीत विहार स्थित सीबीएसई के मुख्यालय में पहुंचाने के लिए भेजा है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement