NDTV Khabar

CTET 2019 December: ये है सीटेट परीक्षा का पैटर्न, इन टिप्स को फॉलों कर क्रैक कर सकते हैं परीक्षा

CTET 2019 परीक्षा 8 दिसंबर को देश के 110 शहरों में आयोजित की जाएगी. सीटेट परीक्षा में 2 पेपर होते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CTET 2019 December: ये है सीटेट परीक्षा का पैटर्न, इन टिप्स को फॉलों कर क्रैक कर सकते हैं परीक्षा

CTET 2019 Exam: सीटीईटी परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाएंगे.

नई दिल्‍ली:

CTET 2019 December: सीटीईटी परीक्षा 8 दिसंबर को आयोजित की जाएगी. सीटेट परीक्षा (CTET 2019 Exam) देश के 110 शहरों में 20 भाषाओं में आयोजित होगी. CTET परीक्षा में अब डेढ़ महीने से भी कम समय रह गया है. ऐसे में
उम्मीदवारों को परीक्षा की तैयारी तेज कर देनी चाहिए. सीटेट परीक्षा में 2 पेपर होते हैं. पेपर 1 उन लोगों के लिए होता है जो कक्षा 1 से 5 तक पढ़ाना चाहते हैं. वहीं, कक्षा 6 से 8 तक के लिए पेपर 2 होता है. बता दें कि CBSE हर साल दो बार सीटीईटी परीक्षा आयोजित करता है. पहली परीक्षा जुलाई और दूसरी दिसंबर के महीने में आयोजित की जाती है. सीटीईटी परीक्षा का पैटर्न और परीक्षा की तैयारी के लिए टिप्स नीचे दी गई हैं.

CTET 2019 परीक्षा का पैटर्न


-सीटीईटी परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाएंगे.
- पेपर 1 में 150 सवाल होंगे. पेपर 1 कुल 150 अंकों का होगा. जबकि पेपर 2 में भी 150 सवाल
होंगे और पेपर 2 भी 150 अंकों का होगा.
-परीक्षा 20 भाषाओं में होगी. उम्मीदवार किसी एक भाषा में परीक्षा दे पाएंगे. इन भाषाओं में
अंग्रेजी, हिंदी, असमी, बांग्ला, गारो, गुजराती, कन्नड़, खासी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, मिजो,
नेपाली, उड़िया, पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलुगू, तिब्बती और उर्दू शामिल हैं.

CTET 2019 Preparation Tips

1. ज्यादा से ज्यादा समय निकाल कर पढ़ें
जैसा कि परीक्षा में डेढ़ महीने से भी कम का समय रह गया है ऐसे में उम्मीदवारों को ज्यादा से ज्यादा समय निकालकर अपनी तैयारी पर ध्यान देना चाहिए. जिस भी विषय में आप कमजोर हैं उस पर ज्यादा फोकस करें.

2. NCERT की किताबों से पढ़ें
उम्मीदवार तैयारी के लिए NCERT की किताबों की मदद ले सकते हैं.  विषयों के लिए वो किताब चुने जो कि सीटीईटी परीक्षा के सिलेबस में दी गई हैं.

3. मॉक टेस्ट की मदद लें
परीक्षा की तैयारी में मॉक टेस्ट अहम रोल निभाता है. मॉक टेस्ट की मदद से आप परीक्षा की प्रैक्टिस कर सकते हैं. मॉक टेस्ट देने से आपको ये पता चल जाएगा कि आपने कैसी तैयारी की है. 

4. प्रेशर न लें
परीक्षा की तारीख नजदीक आते ही हमारे ऊपर दबाव बढ़ने लगता है. प्रेशर न लें. प्रेशर के चक्कर में आप परीक्षा में गलती का शिकार हो सकते हैं. शांत मन और दिमाग से एग्‍जाम देने जाएंगे तो सफलता का फासला थोड़ा और कम हो जाएगा.

अन्य खबरें
QS India Rankings: कलकत्ता विश्वविद्यालय को क्यूएस इंडिया रैंकिंग में मिला 11वां स्थान
जम्मू-कश्मीर के बाल अधिकार पैनल ने स्कूलों से बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement