NDTV Khabar

दिल्‍ली सरकार की नई पहल, 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्‍चों को दी जाएगी स्‍पेशल कोचिंग

अगले महीने शुरू होने वाली बोर्ड कंपार्टमेंट की परीक्षाओं के लिए स्‍पेशल क्‍लास लगाने के साथ-साथ, दिल्ली शिक्षा निदेशालय अगले साल के लिए समग्र परिणामों को बेहतर बनाने के लिए रणनीति तैयार कर रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्‍ली सरकार की नई पहल, 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्‍चों को दी जाएगी स्‍पेशल कोचिंग

द‍िल्‍ली सरकार सीबीएसई बोर्ड के स्‍टूडेंट्स को स्‍पेशल कोचिंग देगी

खास बातें

  1. दिल्‍ली सरकार बोर्ड स्‍टूडेंट्स को स्‍पेशल कोचिंग देगी
  2. कोचिंग की शुरुआत अगले महीने कंपार्टमेंट स्‍टूडेंट्स के साथ होगी
  3. इसके बाद आगे की कोचिंग के लिए रणनीति तैयार की जाएगी
नई दिल्‍ली:

सीबीएसई (CBSE) के 10वीं और 12वीं के परिणामों के आने के बाद दिल्ली सरकार बोर्ड रिजल्‍ट को बेहतर बनाने के लिए अब एक रणनीति बना रही है. सरकार की योजना है कि जिन विषयों में स्‍टूडेंट्स ने सबसे कम नंबर हासिल किए हैं, उन पर विशेष ध्यान देने के लिए स्‍पेशल क्‍लास लगाई जाएंगी ताकि रिजल्‍ट सुधारा जा सके.

यह भी पढ़ें: CBSE टॉपर करिश्‍मा अरोड़ा से खास बातचीत

अगले महीने शुरू होने वाली बोर्ड कंपार्टमेंट की परीक्षाओं के लिए स्‍पेशल क्‍लास लगाने के साथ-साथ, दिल्ली शिक्षा निदेशालय अगले साल के लिए समग्र परिणामों को बेहतर बनाने के लिए रणनीति तैयार कर रहा है.

दिल्ली शिक्षा निदेशालय में निदेशक शिक्षा के प्रमुख सलाहकार शैलेंद्र शर्मा ने कहा कि विभाग ने 10वीं के लिए कंपार्टमेंट परीक्षाओं को लेकर क्‍लास आयोजित करने के लिए स्कूलों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं.


उन्होंने कहा, "इसी तरह के दिशा-निर्देश 12वीं को लेकर भी स्कूलों को दिए जाएंगे."

उन्होंने कहा कि विभाग ने उन छात्रों पर ध्यान दिया है जिन्हें कंपार्टमेंट में रखा गया है.  एक या दो विषयों में फेल होने वालों विद्यार्थियों की श्रेणी को कंपार्टमेंट के जरिए दर्शाया जाता है.

यह भी  पढ़ें: भारतीय विदेश सेवा में जाना चाहती हैं टॉपर हंसिका शुक्‍ला

शर्मा ने कहा, "हम उन बच्चों को कंपार्टमेंट परीक्षा देने और उन्हें पास करने में मदद कर रहे हैं."

उन्होंने यह भी कहा कि जिन विषयों में अधिकतर विद्यार्थियों की कंपार्टमेंट आई है उन्हें लेकर विभाग अगले साल के लिए रणनीति बनाने पर काम कर रहा है. 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, "उदहारण के लिए गणित में बहुत से लोगों का कंपार्टमेंट आया है. इसलिए हम अगले साल इसमें कैसे सुधार लाए, इसके लिए रणनीति बनाने जा रहे हैं."

इनपुट: आईएएनएस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement