NDTV Khabar

दिल्ली के स्कूलों में अगले छह महीनों में लगेंगे 1.46 लाख CCTV कैमरे

सीसीटीवी की रिकॉर्डिग हर स्कूल में सुरक्षित रखी जाएगी और 30 दिनों के बाद अपने आप खत्‍म हो जाया करेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली के स्कूलों में अगले छह महीनों में लगेंगे 1.46 लाख CCTV कैमरे

दिल्‍ली के सरकारी स्‍कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने में 597.51 करोड़ रुपये का खर्च आएगा

खास बातें

  1. दिल्‍ली के सरकारी स्‍कूलों में 1.46 लाख सीसीटीवी कैमरे लगेंगे
  2. दिल्‍ली के 1 हजार सरकारी स्‍कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे
  3. इस बात का ऐलान PWD मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने किया है
नई द‍िल्‍ली :

दिल्ली के पीडब्‍ल्‍यूडी मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि राज्य के एक हजार से ज्‍यादा सरकारी स्कूलों में अगले छह महीनों में 1.46 लाख सीसीटीवी कैमरे लगेंगे. इसमें कुल 597.51 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. ये सीसीटीवी कैमरे टॉयलेट को छोड़कर क्‍लास और खुली जगहों में लगाए जाएंगे.

CCTV परियोजना पर जनता को गुमराह कर रहे हैं केजरीवाल: LG

सत्‍येंद्र जैन के मुताबिक सीसीटीवी की रिकॉर्डिग हर स्कूल में सुरक्षित रखी जाएगी और 30 दिनों के बाद अपने आप खत्‍म हो जाया करेगी. अभिभावकों को एक आईडी और पासवर्ड जारी किया जाएगा जिसकी सहायता से वे रिकॉर्डिग देख सकेंगे.

जैन ने कहा कि कुल राशि में से 385.85 करोड़ रुपये परियोजना के क्रियान्वयन पर खर्च होंगे, 57.69 करोड़ रुपये कैमरों के रखरखाव और 154.97 करोड़ रुपये स्कूलों को इंटरनेट सुविधा देने पर खर्च होंगे. इस परियोजना को दिल्ली सरकार की व्यय वित्त कमेटी ने मंजूरी दी है.


वहीं, शहर में महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर 1.4 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने की परियोजना दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच नया विवाद बनकर उभरी है.

टिप्पणियां

बैजल ने इस परियोजना की जांच के लिए एक समिति गठित की है जबकि आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने उपराज्यपाल को इस परियोजना से दूर रहने के लिए कहा है. प्रदेश सरकार ने आरोप लगाया है कि समिति का गठन परियोजना में देर करने के लिए हुआ है.

Video: दिल्ली में सीसीटीवी कैमरा लगाने को लेकर सियासत शुरू


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement