NDTV Khabar

DU Admission 2019: दिल्ली यूनिवर्सिटी 20 जून को जारी करेगी पहली कट ऑफ, जानिए अन्य कट ऑफ का शेड्यूल

दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) पांच कट ऑफ लिस्ट जारी करेगी. दिल्ली यूनिवर्सिटी द्वारा पहली कट ऑफ लिस्ट 20 जून को जारी की जाएगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
DU Admission 2019: दिल्ली यूनिवर्सिटी 20 जून को जारी करेगी पहली कट ऑफ, जानिए अन्य कट ऑफ का शेड्यूल

DU Cut Off 2019: पांच कट ऑफ लिस्ट का शेड्यूल जारी हो चुका है.

नई दिल्ली:

दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चल रही है. रजिस्ट्रेशन के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी द्वारा कट ऑफ (DU Cut Off) जारी की जाएगी. दिल्ली यूनिवर्सिटी ने पांच कट ऑफ लिस्ट (DU Cut Off 2019) का शेड्यूल जारी कर दिया है. हालांकि सीटें बचने पर डीयू पांच के अलावा और भी कट ऑफ जारी कर सकता है. दिल्ली यूनिवर्सिटी द्वारा पहली कट ऑफ लिस्ट 20 जून को जारी की जाएगी. आइये जानते हैं सभी  कट ऑफ (Delhi University Cut Off) का शेड्यूल..
 

DU Cut Off लिस्ट का पूरा शेड्यूल
 

पहली कट ऑफ- 20 जून
20-22 जून-प्रमाणपत्रों का ऑनलाइन सत्यापन, एडमिशन, फीस भुगतान.

दूसरी कट ऑफ- 25 जून
25 से 27 जून-प्रमाणपत्रों का ऑनलाइन सत्यापन, एडमिशन, फीस भुगतान.

तीसरी कट ऑफ- 29 जून
29 जून से 2 जुलाई- प्रमाणपत्रों का ऑनलाइन सत्यापन, एडमिशन, फीस भुगतान.


चौथी कट ऑफ- 4 जुलाई
4 से 6 जुलाई- प्रमाणपत्रों का ऑनलाइन सत्यापन, एडमिशन, फीस भुगतान.

पांचवी कट ऑफ- 9 जुलाई
9 से 11 जुलाई-प्रमाणपत्रों का ऑनलाइन सत्यापन, एडमिशन, फीस भुगतान.

दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेज बढ़ा सकते हैं स्पॉर्ट्स और ECA कोटे की सीटें
दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) के अधीन आने वाले कॉलेज खेल और पाठ्येतर गतिविधियों (ईसीए) के तहत स्वीकृत सीटों की संख्या विभागीय स्तर पर बढ़ा सकते हैं. हालांकि, उन्हें खेल और ईसीए के लिए निर्धारित पांच प्रतिशत की सीमा के दायरे में रहना होगा. हर कॉलेज में कुल सीटों की अधिकतम पांच प्रतिशत सीटें खेल और ईसीए श्रेणी के लिए आरक्षित होती है.

अगर किसी विभाग को लगता है कि इन श्रेणियों के तहत भरी जाने वाली सीटें खाली हैं तो वह दूसरे विभाग को रिक्त सीटें स्थानांतरित कर सकता है. हालांकि , उन्हें पांच प्रतिशत की सीमा का ध्यान रखना होता है. पिछले साल तक यह व्यवस्था सिर्फ पाठ्येतर गतिविधि श्रेणी के लिए ही थी लेकिन इस बार इसमें खेल श्रेणी को शामिल किया गया है.

अन्य खबरें
दिल्‍ली सरकार की नई पहल, 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्‍चों को दी जाएगी स्‍पेशल कोचिंग
सपना देखा 'हवा में उड़ने' का, शादी की शर्त से निकलकर वह बन गई आईएएस

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement