Coronavirus का बढ़ रहा खतरा, DU के टीचर्स करेंगे घर से काम, प्रशासन ने दी इजाजत

Coronavirus: कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए दिल्ली यूनिवर्सिटी ने अब टीचर्स को भी घर से काम करने की इजाजत दे दी है.

Coronavirus का बढ़ रहा खतरा, DU के टीचर्स करेंगे घर से काम, प्रशासन ने दी इजाजत

दिल्ली यूनिवर्सिटी ने टीचर्स को घर से काम करने की इजाजत दी.

खास बातें

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी ने टीचर्स को भी घर से काम करने की इजाजत दी.
  • डीयू ने लाइब्रेरी बंद रखने का भी फैसला किया.
  • 31 मार्च तक सभी छात्रों की छुट्टी की गई.
नई दिल्ली:

Delhi University: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ रही है. कोरोना के खतरे को देखते हुए दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) ने अब टीचर्स को भी घर से काम करने की इजाजत दे दी है. टीचर्स की मांग के बाद ही ये फैसला लिया गया है. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, दिल्ली यूनिवर्सिटी ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से बचाव के तौर पर टीचर्स के पास घर से काम करने का भी विकल्प है.

डीयू ( Delhi University) की तरफ से कहा गया है, "कोरोना के मद्देनजर टीचर्स के पास घर से काम करने का विकल्प है और टीचर्स इस समय का इस्तेमाल अपना पेंडिंग रिसर्च वर्क पूरा करने और उन्हें पब्लिश करने में कर सकते हैं."

Newsbeep

टीचर्स को घर से काम करने की इजाजत के साथ ही डीयू ने लाइब्रेरी बंद रखने का भी फैसला किया है. डीयू लाइब्रेरी ( DU Library) 31 मार्च तक बंद रखी गई हैं. क्लासेस बंद करने का ऐलान यूनिवर्सिटी पहले ही कर चुकी है. 31 मार्च तक सभी छात्रों की छुट्टी की गई है. अब टीचर्स को भी घर से काम करने की परमिशन दे दी गई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि टीचर्स की मांग के बाद ये फैसला लिया गया है. यूनिवर्सिटी के इस फैसले का टीचर्स ने स्वागत किया है. हालांकि, टीचर्स ने कहा है कि उनकी मांग को सेलेक्टिव रूप से माना गया है. टीचर्स का कहना है कि बड़ी संख्या में गेस्ट टीचर्स भी यूनिर्सिटी से जुड़े हैं, ऐसे में उनका भी ध्यान रखा जाना चाहिए ताकि उनकी सैलरी न कटे.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)