Coronavirus का बढ़ता खौफ, यूपी के इंजीनियरिंग कॉलेजों में चलेंगी ऑनलाइन कक्षाएं

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय ने कोराना वायरस से बचाव के लिए एहतियातन सरकारी व निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों को छात्रों को ऑनलाइन कक्षा शुरू करने के निर्देश दिए हैं.

Coronavirus का बढ़ता खौफ, यूपी के इंजीनियरिंग कॉलेजों में चलेंगी ऑनलाइन कक्षाएं

यूपी के इंजीनियरिंग कॉलेजों में चलेंगी ऑनलाइन कक्षाएं.

खास बातें

  • यूपी के इंजीनियरिंग कॉलेजों में चलेंगी ऑनलाइन कक्षाएं.
  • डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय ने ये फैसला लिया.
  • सरकार ने शिक्षण संस्थानों को 2 अप्रैल तक बंद करने के निर्देश दिए.
नई दिल्ली:

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) ने कोराना वायरस से बचाव के लिए एहतियातन सरकारी व निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों को छात्रों को ऑनलाइन कक्षा शुरू करने के निर्देश दिए हैं. विश्वविद्यालय प्रशासन के अनुसार, छात्रों की पढ़ाई प्रभावित न हो, इसलिए कॉलेज शिक्षक छात्रों की समस्याएं ऑनलाइन हल करें. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के चलते सरकार ने सभी शिक्षण संस्थानों को 2 अप्रैल तक बंद करने के निर्देश जारी किए हैं. इसके बाद विवि प्रशासन ने सभी सरकारी व निजी इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट व बीफार्मा कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी है.

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो़ विनय कुमार पाठक ने बताया कि छुट्टियां खत्म होने के बाद अचानक ही संस्थानों पर छात्रों का पाठ्यक्रम पूरा करने का दबाव बढ़ जाएगा. ऐसे में कॉलेजों को निर्देश दिए गए हैं कि वह ऑनलाइन क्लास का सहारा लेकर छात्रों की पढ़ाई चालू रख सकते हैं. साथ ही शिक्षकों को छात्रों के साथ जुड़े रहने की सलाह दें.

कुलपति ने बताया कि संस्थानों के पास सभी छात्रों के ईमेल और व्हॉट्सऐप नंबर मौजूद हैं. वे ईमेल के जरिए छात्रों के साथ जुड़ सकते हैं. वे छात्रों से बोल सकते हैं कि कोई भी समस्या हो तो समाधान ईमेल पर पूछ सकते हैं. इसके अलावा छात्रों की कक्षाएं स्थागित होने के बाद निजी तकनीकी संस्थानों में सुबह से शिक्षकों को बुलाया जा रहा है. शिक्षकों का कहना है कि कोई काम न होने के बाद भी दिनभर कॉलेज में बैठना पड़ रहा है.

उधर, ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू अरबी फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो़ माहरुख मिर्जा ने भी अपने विद्यार्थियों को वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई कराने का निर्देश शिक्षकों को दिया है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)