DU Admission 2020: दिल्ली यूनिवर्सिटी में इस बार हाई रहेगी कट-ऑफ, CBSE का शानदार रिजल्ट है वजह

दिल्ली यूनिवर्सिटी में  एडमिशनल लेने वाले अधिकतर स्टूडेंट्स सीबीएसई बोर्ड के छात्र ही होते हैं. 

DU Admission 2020: दिल्ली यूनिवर्सिटी में इस बार हाई रहेगी कट-ऑफ, CBSE का शानदार रिजल्ट है वजह

DU Admission 2020: दिल्ली यूनिवर्सिटी में इस बार हाई रहेगी कट-ऑफ.

नई दिल्ली:

DU Admission 2020: सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं क्लास के परीक्षा परिणाम 13 जुलाई को जारी कर दिए हैं. इस बार सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा में कुल 1,57,934 छात्रों ने 90 फीसदी से अधिक अंक प्राप्त किए हैं. इनमें से 38,686 छात्रों ने 95 फीसदी से ज्यादा नंबर हासिल किए हैं. सीबीएसई 12वीं बोर्ड में इस साल पहले के मुकाबले 95 फीसदी से अधिक नंबर हासिल करने वाले स्टूडेंट्स की संख्या डबल हो गई है. इस लिहाज से देखा जाए तो दिल्ली यूनिवर्सिटी की कटऑफ भी इस बार काफी अधिक रहने की संभावना है, क्योंकि दिल्ली यूनिवर्सिटी में  एडमिशनल लेने वाले अधिकतर स्टूडेंट्स सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) के छात्र ही होते हैं. 

शोभा बगई, डीन (एडमिशन), ने कहा कि एडमिशन के लिए पंजीकरण प्रक्रिया 18 जुलाई तक चल रही थी. उन्होंने आगे कहा, "छात्रों के लिए अगला कदम अपने मार्क्स को अपडेट करना होगा. 95 प्रतिशत और 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्रों में वृद्धि हुई है, और हम देखेंगे कि वे किन स्ट्रीम से हैं और ये किस तरह कटऑफ को प्रभावित करेगा."

शोभा बगई ने कहा, "जब हम पोर्टल पर डेटा प्राप्त करेंगे, तभी इसका विश्लेषण हो सकता है. हम UGC के संशोधित शैक्षणिक कैलेंडर की प्रतीक्षा कर रहे हैं. साइंस कोर्स के लिए ये बहुत अहम है, क्योंकि NEET और JEE एग्जाम सितंबर के महीने में आयोजित होना है. NEET और JEE के कई उम्मीदवार डीयू में भी आवेदन करते हैं."

पूर्व शैक्षणिक परिषद के सदस्य पंकज गर्ग ने कहा, "पहली लिस्ट में कट-ऑफ काफी हाई होगी, लेकिन पांचवीं और छठी लिस्ट में भी कट-ऑफ पिछले साल की तुलना में दो-तीन प्रतिशत अधिक होगी. उदाहरण के तौर पर अगर पिछले साल किसी एक विषय में कट-ऑफ 88 फीसदी थी, तो इस साल यह 90 या 91 फीसदी होगी."

Newsbeep

हिंदू कॉलेज की प्रिंसिपल अंजू श्रीवास्तव ने कहा कि पिछले साल की तुलना में पहली कट-ऑफ समान होगी. उन्होंने कहा, "डेटा है कि जिन छात्रों ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए हैं, वे पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग दोगुने हो गए हैं. हमें लिमिटेड सीट्स के कारण कट-ऑफ को हाई रखना होगा. "

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ऐसा है 12वीं का रिजल्ट
इस साल दिल्ली क्षेत्र में 237901 छात्रों ने हिस्सा लिया था जिसमें 224552 छात्र पास हुए हैं यानी दिल्ली में कुल 94.39 फीसदी छात्र पास हुए हैं. वहीं इस साल 16043 विदेशी छात्रों ने हिस्सा लिया था, जिसमें से 15122 छात्र पास हुए हैं. सीबीएसई की इस साल की 12वीं की परीक्षा में  92.15 छात्राएं और  86.19 छात्र पास हुए हैं. त्रिवेंद्रम जोन से सबसे ज्यादा  97.76 फीसदी छात्र पास हुए हैं इसके बाद बंगलोर जोन से 97.05, चेन्नई से 96.17 फीसदी छात्र पास हुए हैं. इस बार स्कूल के हिसाब से रिजल्ट को देखें तो इस बार नवोदय विद्यालय से 98.70%, केंद्रीय विद्यालय से 98.62%. और निजी स्कूलों से 88.22%  छात्र पास हुए हैं.