फ्रीलांसिंग में चाहते हैं बेहतर करियर तो ध्यान रखें ये बातें

बड़े क्लाइंट्स के साथ काम करने की उत्सुकता में खुद को कम आंककर भुगतान संबंधी मामले में समझौता न करें.

फ्रीलांसिंग में चाहते हैं बेहतर करियर तो ध्यान रखें ये बातें

फ्रीलांसिंग में बना सकते हैं बेहतर करियर

वर्तमान में हर क्षेत्र में कुछ न कुछ बदलाव देखने को मिल रहे हैं. ऐसे में नौकरी के क्षेत्र में भी काफी बदलाव आए हैं. इनमें सबसे अहम बदलाव फ्रीलांसिंग का आया है. पहले की तरह अब कंपनियां ऑफिस कल्चर की बजाय फ्रीलांसिंग को बढ़ावा दे रही है. फ्रीलांसिंग के क्षेत्र में इंसान अपनी सहूलियत के मुताबिक घर पर बैठकर कभी भी काम कर सकता है. फ्रीलांसिंग के जरिए रोजाना 2-3 घंटे काम करके ही इंसान अच्छी खासी कमाई कर सकता है.

वर्तमान में फ्रीलांसिंग का कल्चर बढ़ रहा है और कई कंपनियां भी इसे बढ़ावा दे रही है. हालांकि फ्रीलांसिंग में कई तरह की सावधानियां भी बरतनी चाहिए ताकि किसी तरह की दिक्कतों का सामना न करना पड़े. आइए जानते हैं फ्रीलांसिंग के लिए किन बातों को ध्यान में रखना जरूरी है...

डेडलाइन करें निर्धारित
फ्रीलांसिंग के क्षेत्र में आपको अपने हर काम की डेडलाइन निर्धारित करनी होगी. ताकि आप काम को जल्द से जल्द पूरा कर सके और अपने क्लाइंट्स को भी समय पर प्रोजेक्ट उपलब्ध करवा सकें.

सर्विस के मुताबिक चार्ज
खुद को कम कभी भी न आंके. अगर आप किसी काम में दक्ष हैं तो आपको अपनी दक्षता के अनुसार ही चार्ज करना चाहिए. बड़े क्लाइंट्स के साथ काम करने की उत्सुकता में खुद को कम आंककर भुगतान संबंधी मामले में समझौता न करें. फ्रीलांसिंग के क्षेत्र में आपको अपनी काबिलियत के आधार पर ही सर्विसेज को चार्ज करना चाहिए.
 


खुद की मार्केटिंग
अगर आप फ्रीलांसिंग करने के लिए तैयार हैं तो आप जिस क्षेत्र में अच्छे हैं वहां अपनी खुद की मार्केटिंग करें. मार्केंटिंग की भूमिका हर क्षेत्र में अहम होती है. फ्रीलांसिंग में खुद को आगे बढ़ाने के लिए भी अपनी मार्केटिंग करें ताकी काम पाने में आसानी हो. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ज्यादा काम न लें
फ्रीलांसिंग के क्षेत्र में अच्छी कमाई हो जाती है. ऐसे में कम समय में ज्यादा पैसा कमाने के चक्कर में इतना काम न लें कि आप उन काम को पूरा ही न कर सकें. एक वक्त में आप जितना काम कर सके उतना ही काम लें. जरूरत से ज्यादा काम लेने पर आपकी क्षमता और काम की गुणवत्ता पर असर पड़ सकता है.

नियमित नौकरी पर दें ध्यान
फ्रीलांसिंग को एक पार्ट टाइम जॉब की तरह देखा जाता है. ऐसे में अपनी नियमित नौकरी से ध्यान भंग न करें. काम के मामले में आपकी प्राथमिकता हमेशा आपके फ्रीलांसिंग काम की बजाय आपकी नियमित नौकरी होनी चाहिए.
 

करियर से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.