GATE 2017: अच्छे और कम स्कोर वालों के लिए करियर ऑप्शन्स

GATE 2017: अच्छे और कम स्कोर वालों के लिए करियर ऑप्शन्स

26 मार्च, 2017 को गेट 2017 के घोषित नतीजों के बाद कुछ उम्मीदवार खुश होंगे और कुछ मायूस. कम स्कोर करने वाले छात्रों के सामने सबसे बड़ा सवाल होगा - अब आगे क्या करना है? क्या गेट 2018 की तैयारी की जाए? कम स्कोर करने वाले छात्र एक बात दिमाग से निकाल दें कि अब उनका करियर खत्म हो गया है. या अब उनके पास सफलता का कोई रास्ता नहीं बचा है. जबकि वास्तविकता यह है कि अभी भी उनके पास अवसरों की भरमार है. 

देश में ऐसे बहुत से संस्थान हैं जो पीजी कोर्सेज में दाखिला देने के लिए अपना एंट्रेंस टेस्ट करवाते हैं. उनके लिए गेट स्कोर की जरूरत नहीं पड़ती. कम स्कोर ने करने वाले छात्र इन संस्थानों का रुख कर सकते हैं. आईआईआईटी हैदराबाद, आईआईआईटी बेंगलुरु, सीएसआईआर, डीएआईआईसीटी, आईएसआई कोलकाता, आईएसएम धनबाद और बिट्स पिलानी ऐसे ही कुछ संस्थान हैं. इसके अलावा आप बैंकिंग एग्जाम की भी तैयारी कर सकते हैं. गेट में की गई तैयारी बैंक भर्ती प्रतियोगी परीक्षाओं में काम आएगी. 

Newsbeep

वो छात्र, जिन्होंने गेट 2017 में अच्छा स्कोर किया है 
अच्छा स्कोर करने वाले छात्रों को आईआईटी, एनआईटी, आईआईएससी एवं अन्य कई संस्थानों एमटेक, एमई और पीएचडी जैसे मास्टर व डॉक्टोरल कोर्सेज में दाखिला मिल सकता है. आईआईएम से चार से पांच साल का फेलो प्रोग्राम इन मैनेजमेंट भी किया जा सकता है. इस कोर्स की कोई फीस नहीं है. छात्रों को कोर्स के दौरान हर माह 28 हजार रुपये का स्टाइपेंड मिलता है. इसके अलावा ऐसे छात्र जो मास्टर कोर्स नहीं करना चाहते, वह पीएसयू में जॉब पाने का प्रयास करते हैं. वर्तमान में भेल, इंडियन ऑयल, एनटीपीसी समेत करीब 50 पीएसयू हैं जो गेट प्राप्तांकों के आधार पर नौकरी देती है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


...और अगर शानदार स्कोर के साथ गेट क्रैक करना ही आपका लक्ष्य है तो फिर पीछे मुड़कर न देखें. स्ट्रेटेजी बनाएं और गेट 2018 की तैयारी में जुट जाएं. गेट 2017 की गलतियों को ढूंढें और उनसे उबरने की कोशिश करें. अगर आप हाल ही में कॉलेज से पासआउट हुए हैं तो आप पार्ट टाइम जॉब या इंटर्नशिप के साथ भी एंट्रेंस की तैयारी कर सकते हैं. इससे आपका वर्क एक्सपीरियंस और पर्सनैलिटी दोनों का स्तर ऊपर उठेगा. आप चाहे तो गेट की ऑनलाइन तैयारी भी कर सकते हैं. ऐसे कई संस्थान हैं तो इस तरह से तैयारी करवाते हैं.