NDTV Khabar

गेट 2017 आंसर की को 6 मार्च तक कर सकते हैं चैलेंज, जानें प्रोसेस

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गेट 2017 आंसर की को 6 मार्च तक कर सकते हैं चैलेंज, जानें प्रोसेस
नई दिल्‍ली:
टिप्पणियां

स्‍टूडेंट्स आईआईटी रुड़की द्वारा हाल ही में जारी ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट) 2017 की 'आंसर की'  को लेकर अपनी आपत्‍ति अब दर्ज करा सकते हैं. छात्र गेट 2017 के गेट ऑनलाइन इंटरफेस ऑनलाइन आवेदन प्रोसेसिंग सिस्टम (GOAPS) के जरिए आंसर-की को चैलेंज कर सकते हैं. इस इंटरफेस में लॉगिन करने के लिए आपको अपना इंरोलमेंट आईडी / ईमेल एड्रेस और पासवर्ड डालना होगा.

गेट 2017 की आंसर की आईआईटी रुड़की की ऑफिशियल वेबसाइट पर 6 फरवरी 2017 को सुबह 10 बजे तक मौजूद रहेगी. छात्र GATE Online Application Processing System (GOAPS) website: http://appsgate.iitr.ac.in पर अपनी आपत्‍ति दर्ज करा सकते हैं. गेट 2017 का रिजल्‍ट 27 मार्च 2017 को जारी किया जाएगा.


गेट 2017 की आंसर की पर आपत्‍ति दर्ज करने के लिए छात्र द्वारा उसकी जरूरी वजह भी बतानी होगी. छात्रों को सवाल पर आपत्‍ति दर्ज कराने के लिए प्रति सवाल 500 रुपये का फी जमा कराना होगा. शुल्‍क का भुगतान ऑनलाइन किया जा सकता है. भारत के बाहर गेट 2017 परीक्षा में शामिल छात्रों को सवाल पर आपत्‍ति दर्ज कराने के लिए प्रति सवाल 10 यूएस डॉलर जमा कराना होगा. हालांकि अगर छात्रों की आपत्‍ति अगर सही पाई गई तो उनके पैसे उन्‍हें वापस कर दिए जाएंगे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement