Bihar Board 12th Result: साइंस टॉपर कल्पना को नहीं थी टॉप करने की उम्मीद, जानिए रिजल्ट आने के बाद क्या कहा...

रिजल्ट घोषित होने के बाद कल्पना ने बताया कि उन्हें टॉप करने का यकीन नहीं था. कल्पना ने कहा, 'मेरी सफलता मेरी कड़ी मेहनत का नतीजा है.

Bihar Board 12th Result: साइंस टॉपर कल्पना को नहीं थी टॉप करने की उम्मीद, जानिए रिजल्ट आने के बाद क्या कहा...

NEET में ऑल इंडिया टॉप करने वाली कल्पना 12वीं में साइंस में भी रहीं अव्वल.

खास बातें

  • कल्पना ने कहा-यह कड़ी मेहनत का नतीजा
  • कल्पना को 500 में से 433 नंबर मिले है
  • 12वीं में 52.95 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं
नई दिल्ली:

बिहार बोर्ड के 12वीं का रिजल्ट घोषित हो चुका है. बोर्ड ने परीक्षा के 3 महीने बाद रिजल्ट घोषित किया है. बोर्ड ने आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस तीनों के नतीजे घोषित किए हैं. साइंस में 44.71 फीसदी, आर्ट्स में 61 फीसदी और कॉमर्स में 91.32 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं. NEET ऑल इंडिया टॉपर कल्पना कुमारी ने साइंस स्ट्रीम में टॉप किया है. कल्पना को 500 में से 433 नंबर मिले हैं.

Bihar Board 12th Result : 12वीं का रिजल्ट घोषित, साइंस में 45, आर्ट्स में 61 और कॉमर्स में 91 फीसदी पास
 


रिजल्ट घोषित होने के बाद कल्पना ने बताया कि उन्हें टॉप करने का यकीन नहीं था. कल्पना ने कहा, 'मेरी सफलता मेरी कड़ी मेहनत का नतीजा है. यह मेरे लिए विश्वास करने जैसा नहीं है, क्योंकि मुझे टॉप-10 में आने का भरोसा था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं टॉप करूंगी.

ये हैं बिहार की साइंस टॉपर, NEET में भी किया था ऑल इंडिया टॉप

इस साल बिहार के 12वीं बोर्ड परीक्षा में 52.95 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं. कॉमर्स स्ट्रीम से निधि सिन्हा ने टॉप किया है. उन्होंने 434 अंक हासिल किए. इस साल करीब 12 लाख स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी थी. 1,384 सेंटर्स पर परीक्षाएं आयोजित हुई थीं.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

CBSE NEET result 2018 : नीट रिजल्ट घोषित, 99.99 पर्सेंटाइल के साथ कल्पना कुमारी टॉपर

इससे पहले NEET में टॉप करने के बाद NDTV से खास बातचीत में कल्पना ने बताया था कि वह बचपन से ही बहुत मेहनती रही हैं. अपना लक्ष्य प्राप्त करने के लिए वह हर दिन 12 से 13 घंटे की पढ़ाई करती थीं. NCERT की किताबों को उन्होंने बेहद ध्यान से पढ़ा और साथ ही अपने कोचिंग के मटेरियल से पढ़ाई की. कल्पना मॉक टेस्ट को तैयारी के लिए बेहद जरूरी मानती हैं, और उनका मानना है की हर स्टूडेंट को टेस्ट देते रहने चाहिए, ताकि वह अपनी परफॉरमेंस को नाप सकें और गलती न दोहराएं.