हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय की एंट्रेंस परीक्षा में 600 से अधिक उम्मीदवार हुए शामिल, जानिए डिटेल

हिसार स्थित हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (Haryana Agricultural University) की स्नातकोत्तर (PG) प्रवेश परीक्षा में रविवार को 600 से अधिक अभ्यर्थी शामिल हुए.

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय की एंट्रेंस परीक्षा में 600 से अधिक उम्मीदवार हुए शामिल, जानिए डिटेल

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय की एंट्रेंस परीक्षा में 600 से अधिक उम्मीदवार हुए शामिल.

नई दिल्ली:

हिसार स्थित हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (Haryana Agricultural University) की स्नातकोत्तर (PG) प्रवेश परीक्षा में रविवार को 600 से अधिक अभ्यर्थी शामिल हुए. विश्वविद्यालय के कुलसचिव बी. आर. कंबोज ने कहा कि हालांकि 300 आवेदक अनुपस्थित रहे. विश्वविद्यालय चार चरणों में प्रवेश परीक्षा आयोजित करा रहा है. अगले चरण की परीक्षाएं 9 सितंबर, 12 सितंबर और 16 सितंबर को होंगी. कंबोज ने कहा कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं. उन्होंने कहा कि सभी परीक्षा केंद्रों पर कोविड-19 से बचाव संबंधी एहतियात बरते गये. 

परीक्षा सुबह 10.30 बजे से 12.30 बजे तक उपलब्ध कराई गई. छात्रों की संख्या और केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए इन परीक्षाओं को आयोजित करने के लिए चार परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. कंबोज ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने अभ्यर्थियों को पानी की बोतलें और मास्क उपलब्ध कराए. 

Newsbeep

हरियाणा के कॉलेजों में सितंबर के अंत तक होंगी अंतिम वर्ष की परीक्षाएं
वहीं, हरियाणा में राज्य सरकार से सहायता प्राप्त कॉलेजों और विश्वविद्यालयों की अंतिम वर्ष की लंबित परीक्षाएं सितंबर अंत तक आयोजित होंगी. राज्य के सरकारी सहायता प्राप्त सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और परीक्षा नियंत्रकों की एक बैठक में यह फैसला किया गया. अधिकारियों ने बताया कि इन परीक्षाओं में दो लाख छात्रों के हिस्सा लेने का अनुमान है. परिणाम की घोषणा 31 अक्टूबर तक कर दी जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्य सरकार के एक बयान में परिषद के प्रवक्ता के हवाले से बताया गया कि छात्रों को विकल्प दिया गया है कि वे ऑनलाइन या ऑफलाइन परीक्षा दे सकते हैं. बयान में कहा गया, "स्नातक और परास्नातक पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं में दो लाख छात्रों के हिस्सा लेने का अनुमान है. इन परीक्षाओं में छात्रों की हिस्सेदारी के लिए उचित इंतजाम किए जाएंगे."



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)